ट्रेन में मिली जवान चूत


hindi sex stories

हाय दोस्तों, कैसे हैं आप सभी ? मैं आशा करती हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे | मेरा नाम तारा है और मैं इमलिया का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र उनतीस साल है और मैं बेरोजगार हूँ | मेरी हाईट पांच फुट नौ इंच है और मेरा शरीर ठीक ठाक ही है | मेरा रंग सांवला है | दोस्तों मैं इस साईट का दैनिक पाठक हूँ और मुझे चुदाई की कहानियां पढ़ना बहुत अच्छा लगता है | मैं हर दिन नयी नयी चुदाई की कहानियां पढ़ते हुए अपने लंड को सहलाता हूँ और फिर मुट्ठ मार के पानी की बौछार करता हूँ | दोस्तों आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी पेश करने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैं आशा करता हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी जरुर पसंद आएगी और मेरी कहानी पढने में आप लोगो को मजा भी बहुत आएगा | तो अब मैं आप लोगो को ज्यादा बोर नहीं करूंगा और अपनी कहानी पर आता हूँ |

ये घटना कुछ दिनों पहले की है | मेरे घर में, मेरे पापा, मम्मी, भाई, भाभी, और उनके दो बेटे रहते हैं | दोस्तों मैं शुरू से ही बिगड़ा लड़का रहा हूँ और मुझे शुरू से ही शराब की बहुत बुरी लत लगी हुई है | लेकिन मेरे पास पैसे हमेशा रहते हैं क्यूंकि मैं दो नम्बरी धंधा करता हूँ | मेंह हमेशा बिंदास रहता हूँ और जिन्दगी के सारे मजे लेता हूँ | एक दिन की बात है मेरे दोस्त का मुंबई से फ़ोन आया कि यार बहुत दिन हो गए तुझसे मिला नहीं | तो मैंने कहा चल फिर मैं आता हूँ | थोडा बहुत घर से ताने मिलने के बाद घर वालो ने इजाजत दे दिए कि चले जा | उसके बाद जब मैं ट्रेन में बैठ गया अपनी सीट पर जा कर तभी मेरी नजर एक लड़की पर पड़ी जिसका मुझे नाम तक नहीं पता | वो दिखने में गोरी थी और उसका फिगर भी बहुत सुन्दर और सुडोल है था | मैं तो उसके देखते ही साथ उसका कायल हो गया था | मेरी सीट उसकी सीट के बगल में ही थी और वो मुझे बार बार देखे जा रही थी | मैं मन ही मन उसे चोदने के बारे में सोचने लगा लेकिन जिस डिब्बे में मैं था उस डिब्बे में काफी लोग थे इसलिए मैं उस लड़की की तरफ ध्यान नहीं दे रहा था बल्कि सिर्फ उसे ही सोचते सोचते चुदाई के बारे में सोच रहा था |

loading...

रात हो चुकी थी और मैं सोने का नाटक करने लगा | वो भी अपनी किताब को बंद कर के फ़ोन में गाने सुन रही थी | थोड़ी देर के लिए मेरी आँख लग गई और जब मैं उठा तो देखा कि वो सब तो सो गए हैं और वो अभी तक मोबाइल में ही लगी हुई है | उसके बाद मैं धीरे से अपनी सीट से उठा और उसकी तरफ गया फिर मैंने उसके मोबाइल में झाँक कर देखा तो वो ब्लू फिल्म देख रही थी | उसका एक हाँथ उसके लोअर में था | मैं समझ गया कि ये बहुत ज्यादा गरम हो रही है तो मैंने सोचा कि मौके पे चौका मारना सही रहेगा | मैंने धीरे से उसके हाँथ पर अपने हाँथ फेरने लगा तो वो एक दम से चौंक कर उठी | वो कुछ बोल पाती मैंने तुरंत ही उसके मुंह पर अपने हाँथ रख दिया और धीरे सेस उसके कान में कहा यार मजे लेना है तो हाँथ से क्यूँ ले रही हो ? असली लंड का मजा लो ? ये सुन कर वो शांत हो गई और मेरे कान में कहा कि यार मुझे सच में चुदाई चाहिए | मैं तुम्हे कबसे इशारे कर रही थी तुम मेरी तरफ ध्यान क्यूँ नहीं दे रहे थे ? मैंने कहा यार यहाँ सभी लोग थे उस समय इसीलिए मैंने सोचा कि आगे चल कर तो डिब्बा खाली होना ही है इसलिए मैं उस समय चुप रहा | उसने भी मेरी बातो पर सहमती जताई और कहा तो अब क्या करे ? मैंने कहा बस अब तो हम दोनों ही हैं लेकिन सामान छोड़ कर नहीं जाना चाहिए | तो उसने कहा तुम टेंशन मत लो मेरे पास चेन और लॉक है |

उसके बाद मैंने अपने सामान को चेन से बाँध कर लॉक कर दिया | फिर हम दोनों एक एक कर के टॉयलेट के अन्दर घुस गए | उसके बाद मैंने उसे अपनी बांहों में भर लिया और उसको मसलने लगा | वो भी मेरी बांहों में आ कर मुझे अच्छे से सहला रही थी | थोड़ी देर तक हम दोनों एक दुसरे के ऐसे ही कुछ देर तक सहलाते रहे और फिर मैंने उसके होंठ में अपने होंठ रख दिए और उसके होंठ को चूसने लगा | वो भी उत्तेजना में थी और वो मेरा साथ किस्सिंग में देते हुए मेरे होंठ को चूसने लगी | मैं उसके होंठ को चूसते हुए उसके दूध भी मसल रहा था और वो मेरे होंठ को चूसते हुए मेरे लंड को लोअर के ऊपर से ही सहला रही थी | कुछ देर किस करने के बाद मैंने उसके टॉप को ऊपर खिसका दिया और ब्रा को भी ऊपर कर दिया | अब मेरे सामने उसके दो गोरे गोरे अनमोल रतन में सामने आ गए | मैंने उसके एक दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा और दुसरे दूध को दबाने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की सिस्कारियां लेने लगी | फिर मैंने उसके पहले दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा और पहले वाले को मसलने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मेरे सिर के बालो को एक हाँथ से सहला रही थी | उसके बाद मैं उसके दोनों दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मजे लेने लगी | मैंने उसके दूध को खूब मसला और खूब चूसा | उसके बाद उसने मेरी टी-शर्ट को ऊपर उठा कर मेरे सीने के बाल को सहलने लगी तो मैं मस्ती में झूम उठा | उसके बाद उसने मेरे लोअर को नीचे खिसका दी और मेरे लंड को अपने हाँथ में ले कर हिलाने लगी |

जब मेरा लंड तन के एक दम तम्बू बन गया तो वो मेरे लंड को चाटने लगी जीभ से और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने लगा | वो मेरे लंड पर अपनी जीभ घुमा घुमा कर चाट रही थी और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके बालो को सहला रहा था | मेरे लंड को कुछ देर चाटने के बाद उसने मेरे मेरे लंड को अपने मुंह में ले कर चूसने लगी और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की सिस्कारियां लेते हुए मजे ले रहा था | वो मेरे लंड को जोर जोर से आगे पीछे करते हुए चूस रही थी और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके मुंह की चुदाई कर रहा था | फिर मैंने उसके लोअर और पेंटी को उतार दिया और उसके पैरो को फैला कर नीचे झुक कर उसकी चूत को चाटने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मछली की तरह तड़पने लगी | मैं उसकी चूत को चाटते हुए उसकी चूत में ऊँगली डाल कर चोद रहा था और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मेरे मुंह को अपनी चूत पर दबा रही थी | उसके बाद मैंने उसे झुका दिया और अपने लंड पर थूक लगा कर उसकी चूत में सेट किया और अन्दर डाल कर चोदने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपने एक हाँथ से अपने दूध को मसलने लगी | मैंने उसे जोर जोर से चोद रहा था और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपनी गांड आगे पीछे करते हुए चुदवा रही थी | फिर मैंने उसकी एक टांग को उठाया और अपने लंड को उसकी चूत में डाल कर चोदने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए छुड़ा के मजे ले रही थी | कुछ देर के बाद मैंने अपना वीर्य उसके मुंह में ही झड़ा दिया |