सेक्स की भूख बढ़ती गई


Antarvasna, kamukta मेरा नाम अमन है मैं चंडीगढ़ का रहने वाला हूं मेरे पिताजी कनाडा में रहते थे और अब वह चंडीगढ़ आ चुके हैं कुछ समय पहले पापा ने एक कंपलेक्स में एक स्पेस खरीद लिया और उन्होंने मुझे कहा बेटा मैं यहां पर एक रेस्टोरेंट खोलना चाहता हूं और तुम्हें ही अब यहां पर सारा काम संभालना होगा। मैंने पापा से कहा लेकिन मुझे तो इन सब चीजों का कोई नॉलेज नहीं है पापा कहने लगे बेटा जब काम करोगे तो अपने आप ही सीखते चले जाओगे। मेरे पापा कनाडा में शेफ रह चुके हैं इसलिए उन्हें इन सब चीजों के बारे में अच्छा नॉलेज है मैं तो एक कंपनी में जॉब करता था और वहां पर मैं अकाउंटेंट की जॉब करता था फिर मैंने वहां से अपनी जॉब छोड़ दी थी और रेस्टोरेंट का काम समाने लगा था वह रेस्टोरेंट काफी अच्छा चलने लगा था और हमारे अब कस्टमर भी बढ़ने लगे थे।

एक दिन पापा मुझे कहने लगे बेटा आज शाम को शादी में चलना है हमारे परिचित की शादी है मैंने पापा से कहा लेकिन क्या वहां जाना जरूरी है। पापा कहने लगे हां बेटा वहां तो जाना जरूरी है उनके बड़े लड़के की शादी है और वहां पर हम सबको जाना है मैंने पापा से कहा ठीक है। शाम के वक्त हमारे रेस्टोरेंट में काम करने वाले लड़के ने ही काउंटर का काम संभाला और हम लोग वहां से शादी में चले गए हमारा पूरा परिवार शादी में चला गया। मैं जब शादी में पहुंचा तो मुझे बड़ा अजीब सा लग रहा था क्योंकि कोई भी जान पहचान का नहीं था लेकिन मेरे पापा के दो पुराने दोस्त मिल गए थे तो वह उनके साथ बात कर रहे थे और मेरी मम्मी भी एक आंटी के साथ बैठ कर बात कर रही थी मैं तो सिर्फ इधर से उधर घूम रहा था। तभी मेरी नजर एक लड़की पर पड़ी जो कि बहुत ही अच्छा डांस कर रही थी उसने काले रंग का सूट पहना हुआ था मैं सिर्फ उसे ही देखता रहा उस दिन मुझे उस लड़की को देखकर एक अलग ही फीलिंग आई मुझे ऐसा लगा जैसे कि मैं उससे शादी कर लूं लेकिन मुझे ना तो उसका नाम पता था और ना ही उसके बारे में कोई जानकारी थी। मैंने उसकी एक फोटो ले ली और मैं जब उसकी फोटो देखता तो मुझे अच्छा लगता कुछ समय बाद वह हमारे रेस्टोरेंट में आई मैं उस दिन रेस्टोरेंट में ही था।

जब वह रेस्टोरेंट में आई तो मैं सिर्फ उसे देखता रहा वह मुझे कहने लगी हमने एक छोटी सी पार्टी रखी है हम चाहते हैं कि आप के रेस्टोरेंट में हम लोग वह पार्टी रखे मैंने उन्हें कहा जी बिल्कुल। वह मुझसे पूछने लगी आप हमें बता दीजिए कि आप हमें पार्टी में क्या क्या देने वाले हैं मैंने उन्हें सब कुछ बताया लेकिन मैं सिर्फ उसी की तरफ देख रहा था और जब उसने मुझसे पूछा कि क्या इस में कोई डिस्काउंट मिलेगा मैंने उसे कहा हां आप आ जाइए मैं आपको डिस्काउंट दे दूंगा। मैंने उसका नंबर लिया मैंने अपने मोबाइल में उसका नंबर सेव किया और मैंने उससे पूछा आपका नाम क्या है तो वह कहने लगी मेरा नाम काजल है मैंने उसका नंबर सेव कर लिया था मैंने उसे अपना कार्ड दे दिया। अगले ही दिन वह आई और उसने मुझे कुछ पैसे एडवांस में दे दिए अब उसकी बुकिंग फाइनल हो चुकी थी और जब वह लोग पार्टी के लिए आए तो मैंने उस दिन अपने पूरे स्टाफ से कह दिया था कि किसी भी प्रकार की कमी नहीं रहनी चाहिए इसलिए उन्होंने विशेष तौर पर ध्यान दिया और सब कुछ बढ़िया हुआ। जिस वक्त काजल जा रही थी उस वक्त वह मुझे कहने लगी आपने बहुत ही अच्छा अरेंजमेंट किया था और सब लोगों ने आप के यहां के खाने की बड़ी तारीफ की है। मैंने काजल से कहा यह आपका ही रेस्टोरेंट है आपका जब मन करे तो आप यहां पर आ जाइएगा काजल कहने लगी ठीक है यदि कभी कोई छोटा फंक्शन हमे करना हो तो मैं आपको ही कहूंगी। एक दिन मैंने काजल के फोन पर फोन किया उसने जब फोन उठाया तो वह मुझसे कहने लगी क्या कोई काम था तो मैंने उसे कहा नहीं मैं किसी और काजल को फोन कर रहा था और आपका नाम मेरे मोबाइल में सेव था तो मैंने आपका नंबर लगा दिया। वह कहने लगी कोई बात नहीं और फिर उसने फोन रख दिया उसके बाद वह एक दो बार रेस्टोरेंट में आई उसकी फैमिली भी उसके साथ थी जब वह रेस्टोरेंट में आती तो मैं सिर्फ काजल की तरफ़ ही देखा करता हूं।

उसके चेहरे को देख कर मुझे ऐसा बहुत अच्छा लगता है लेकिन मैं काजल से अब तक अपने दिल की बात नहीं कह पाया था मैं उससे दोस्ती करने के बहाने ढूंढने लगा। मैं अब काजल को फोन पर मैसेज करने लगा काजल का भी रिप्लाई मुझे आ जाया करता था लेकिन हम दोनों की फोन पर अभी तक बात नहीं हो पाई थी। एक रात मैंने काजल के साथ मैसेज के माध्यम से बहुत देर तक बात की और उसके बारे में जानने की कोशिश की। मुझे काजल ने बताया कि वह अभी कॉलेज पढ़ रही है तो मैंने भी उसे कहा मेरा कॉलेज भी कुछ समय पहले ही खत्म हुआ है और उसके बाद मैंने कुछ समय तक नौकरी की और पापा ने अब यह रेस्टोरेंट खोल दिया है तो सारी जिम्मेदारी मुझ पर ही है और मैं ही रेस्टोरेंट को संभालता हूं। काजल से मेरी दोस्ती तो हो चुकी थी और वह जब भी मेरे रेस्टोरेंट में आती तो वह मुझसे मुस्कुरा कर बात किया करती अब हम दोनों की दोस्ती हो चुकी थी इसलिए एक दिन उसने मुझे अपने कॉलेज में बुलाया। उस दिन उसके कॉलेज में कोई प्रोग्राम था और शायद काजल ने भी उस डांस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था मैं जब काजल के कॉलेज में गया तो मैंने देखा कॉलेज में काफी भीड़ थी लेकिन काजल ने एक लड़के से कह दिया था कि मुझे आगे की सीट में बैठा देना। जब काजल का नाम आगे से अनाउंसमेंट हुआ तो मैं स्टेज की तरफ ध्यान से देखने लगा काजल जब डांस करने के लिए आई तो मैं सिर्फ उसे ही देख रहा था।

काजल ने उस दिन बड़ा ही जबरदस्त डांस किया मैंने काजल की बहुत तारीफ की और कहा तुम्हारे अंदर बहुत ही अच्छी प्रतिभा है तुम्हें इसे आगे तक ले कर जाना चाहिए। वह मुझे कहने लगी नहीं यह संभव नहीं हो सकता क्योंकि मेरे पापा इन सब चीजों के खिलाफ हैं मैंने काजल से कहा चलो कोई बात नहीं, काजल और मेरी दोस्ती अब अच्छी होने लगी थी। हम दोनों के बीच में काफी बातें होने लगी थी हम दोनों एक दूसरे को अच्छे से जानने लगे थे और काजल के साथ मैं काफी अच्छा समय बताया करता। कभी कबार मैं काजल से मिलने के लिए उसके कॉलेज भी चला जाया करता था उसके कॉलेज में जब भी मैं जाता तो उस दिन पापा कहते कि तुम ना जाने आजकल कहां रहते हो मेरे पापा मुझे कहते कि तुम्हारा मन काम पर नही है तुम काम पर पूरा ध्यान दो। काजल अपने दोस्तों को लेकर मेरे रेस्टोरेंट में कई बार आ जाती थी और वह काफी देर तक बैठी रहती थी। जब भी काजल रेस्टोरेंट में आती तो मैं उसकी तरफ देखता रहता काजल के प्यार का जादू मेरे सर चढ़कर बोल रहा था और मैं दिल ही दिल काजल को बहुत ज्यादा चाहता था लेकिन इस बात का काजल को कोई पता नहीं था। जब भी वह मुझे देखती तो मुझे ऐसा लगता जैसे कि उसके दिल में मेरे लिए कुछ चलने लगा है मैंने एक दिन काजल से कहा क्या तुम मेरे साथ आज कैंडल लाइट डिनर करोगे काजल मान गई। वह मेरे साथ कैंडल लाइट डिनर के लिए तैयार हो चुकी थी हम दोनों मेरे रेस्टोरेंट में कैंडल लाइट डिनर कर रहे थे। उस रात हम दोनों के बीच वह सब हुआ जो मैं चाहता था मैंने काजल के हाथ को किस किया और फिर उसके होठों को चूमने लगा।

मैं उसे उस रात अपने साथ एक होटल में ले गया और हम दोनों वहां पर रात को रूके मैंने काजल के होठों को चूमना शुरू किया तो उसके होठों से एक अलग ही गर्मी निकल रही थी और उसकी सांसे बढती जा रही थी। मेरी दिल की धड़कन बढ़ने लगी जैसे ही मैंने काजल की योनि को चाटना शुरू किया तो उसे बड़ा अच्छा लगने लगा मैं उसकी योनि को चाट रहा था और वह पूरे मजे ले रही थी। मैंने जब अपने मोटे लंड को काजल की योनि के अंदर डाला तो वह चिल्ला उठी जैसे ही मैंने धक्के देते हुए अपने लंड को उसकी योनि के अंदर बाहर करना शुरू किया तो उसके मुंह से चीख निकल पड़ी। वह मुझे कहने लगी मुझे बड़ा दर्द हो रहा है लेकिन वह मेरा साथ दे रही थी, मैं उसे बड़ी तेजी से धक्के दिए जाता हम दोनों ने एक दूसरे के साथ उस दिन काफी देर तक सेक्स का आनंद लिया। जब मेरा लंड काजल की योनि के अंदर बाहर होता तो उसे बड़ा अच्छा लगता वह मुझे कहती मुझे बहुत मजा आ रहा है वह मेरा साथ बड़े अच्छे तरीके से दे रही थी और मैं उसे तेजी से धक्के दे रहा था।

मुझे क्या मालूम था वह ज्यादा देर तक मेरे धक्को को बर्दाश्त नहीं कर पाएगी और झड जाएगी उसने अपने दोनों पैरों को चौड़ा कर लिया और मैं उसे तेजी से धक्के देते रहा कुछ देर बाद उसने मुझे अपने दोनों पैरों के बीच में जकडते हुए कहा मुझे मजा आ रहा है। मैं उसे बड़ी तेजी से धक्के मारता लेकिन मेरा वीर्य पतन हो चुका था जैसे ही मेरा वीर्य पतन हुआ तो वह मुझे कहने लगी आज तो वाकई में मजा आ गया। हम दोनों ने उस रात भरपूर सेक्स का मजा लिया काजल मेरी गर्लफ्रेंड बन चुके हैं और हम दोनों साथ में बहुत अच्छा समय बिताया करते हैं। मुझे काजल के साथ रुकना बहुत अच्छा लगता है और जब भी हम दोनों साथ में रुकते हैं तो हम दोनों सेक्स का भरपूर मजा लेते हैं। मैं काजल के साथ सेक्स कर के बहुत खुश होता हूं क्योंकि उसके अंदर सेक्स की भूख अब बढ़ती जा रही है और मैं इससे बहुत ज्यादा खुश हूं। काजल के बारे में मेरे पापा को भी पता चल चुका है क्योंकि एक दिन उन्होंने मुझे काजल के साथ देख लिया था लेकिन उन्होंने मुझे कुछ नहीं कहा क्योंकि उन्हे भी मालूम है अब मैं जवान हो चुका हूं।


error: