नेपाल में चूत का मजा


नमस्कार दोस्तों कैसे हो आप लोग | आशा करता हूँ की ठीक ही होगे आप लोग | दोस्तों मेरा नाम निक्की है मैं उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ | मेरे घर में मेरे मम्मी पापा और मेरी मौसी का लड़का रहता है | पापा मेरे पुलिस विभाग में है और मम्मी हाउसवाइफ है और ज्यादातर घर ही पे रहती है | मैं  कंप्यूटर साइंस से बी.टेक कर रहा हूँ | मैं अपनी पढाई लखनऊ में करता हूँ | तो चलिए दोस्तों ए आप लोगो को शीधा कहानी की ओर ले चलता हूँ |

दोस्तों ये बात उस समय की है जब हम लोग अपने फस्ट इयर के एग्जाम दे चुके थे और एग्जाम के बाद मैं और मेरी दोस्त सना ने नेपाल घूमने का प्लान बनाया | सना मेरी बहुत ही अच्छी  फ्रेंड थी  । अब मैने भी उसे हाँ कर दिया । तभी उसने कहा कि में कल सुबह के समय तुम्हारे घर आऊंगी तुम्हे लेने के लिये और मैने बोला कि ठीक है ।

मैं सिर्फ अपनी माँ के साथ घर पर रहता था | गावं में कुछ काम था इसलिए माँ भी कुछ दिनो के लिए गावं गई थी । इसलिए मैं  अपने घर मे बिलकुल अकेला था । अब मैं अगले दिन तैयार हो गया | अब सना सुबह दस बजे मेरे घर ही आ गयी  और मुझे देखती ही रह गयी | उसने मजाक में मुझसे कहा की  आज तो जनाब बहुत ही सेक्सी लग रहे है । अब मैं आप लोगो को बताउं कि सना भी बहुत ही पटाका माल थी और वो मुझे बहुत ही अच्छी लगती थी |मैं उसको हमेशा चोदने की चाहत रखता था | और कॉलेज की बहुत से लड़के भी उसकी तरफ आकर्षित होते थे । अब हम दोनों घर से नेपाल  के लिए निकल चुके थे | अब हम लोग बाइक से नेपाल जा रहे थे  इसलिए जब भी मैं ब्रेक लगाता तो उसके बूब्स मेरे  बेक पर जा अड़ते थे | उसके बूब्स मेरे बेक पर लग रहे थे जिसकी वजह से वो एकदम गरम हो गई थी । तो तभी मैने अपना एक हाथ सना की थाई  पर रखा । सना ने कुछ नहीं बोला | अब मैं उसकी थाई को सहलाने लगा और उसके बॉडी पर अपनी बॉडी रगड़ने लगा । देखते ही देखते अब सना की चूचियां तन कर मेरे बेक पर चुभ रही थी और मेरा भी लंड खड़ा हो गया था।

loading...

मैं भी अब अपने कंट्रोल मे नहीं था | और तभी मैने सना की की पेंट की ज़िप को खोल दी | उसने अंडरवियर नहीं पहनी थी | अब मैने अपना एक हाथ उसकी ज़िप के अंदर डाल दिया और उसकी  चूत में फिंगरिंग करने लगा और उसके मुह से आह आह ओह्ह ओह उन्ह उन्ह आह आह ओह्ह ओह्ह उन्ह उन्ह आह आह ओह्ह ओह्ह उन्ह उन्ह उन्ह इह्ह इह इह्ह इह्ह आह आह आह आह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह ओह ओह्ह ओह्ह ओह उन्ह उन्ह अहह अहह अहह आह आह आह आह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह ओह्ह उन्ह उन्ह उन्हिह्ह इह्ह इह्ह आह आह की सिस्कारिया निकाल रही थी | और तभी मैने सना से कहा कि सना आई लव यू । मैं हमेशा से तुम्हारे ही सपने देखता रहता हूँ और मैं  तुमको चोदना चाहता हूँ । उसने भी रिप्लाई दिया  हां प्लीज़ तुम मुझे चोद दो । मैं सिर्फ तुम्हारी हूँ, सिर्फ़ तुम्हारी । क्योकि उसको मैंने दोस्तों अच्छी तरह से गरम कर दिया था | वो इतनी गरम हो गयी थी की रास्ते में चुदवाने को राजी हो गयी थी पर रास्ते पर सब लोग आ जा रहे थे | थोड़ी देर बाद हम लोग नेपाल पहुच गये थे | वहां हम लोग एक अच्छे से होटल मे गये और हमने एक रूम बुक किया और हम अपने रूम मे गये । मैं अभी भी गरम था । मैं रूम के  अंदर पहुँचते ही सना के सामने ही अपने सारे कपड़े उतार दिए और कहा की सना अब बर्दास्त नही ओ रहा है | तो फिर उसने भी मुझसे कहा  की मैं तुम्हारी हूँ सिर्फ़ तुम्हारी प्लीज़ आज मुझे चोदो अब मुझे भी बर्दाश्त नहीं होता । तभी मैंने  कहा कि ठीक है मेरी जान तुम जैसा कहो अब ये कहकर मैं उसके बूब्स दबाने लगा और वो आह आह आह ओह्ह ओह्ह ओह्ह उन्ह उन्ह उन्ह आह आह आह आह आह आह आह आह ओह्ह ओह्ह ओह ओह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह आह आह अ अह आह ओह्ह्ह की जोर-जोर से सिसकियां लेने लगी थी।

फिर मैंने उसके बूब्स अपने मुहं में लेके चूसने लगा | अब मैं  सातवें आसमान मे था उसके बूब्स बहुत सॉफ्ट थे । अब मैने उसकी पेंट को उतारा और उसकी चूत को देखा तो देखता ही रह गया था । आज तक मैने कभी भी किसी की चूत को नहीं देखा था। उसकी चूत गुलाबी कलर की थी | मैं झट से बेड पर गया और उसकी चूत में अपना मुह डाल के चाटने लगा और उसके मुह से जोर-जोर से आह आह आह आह आः आह आ आह आया हां आह आह आः आह ओह ओह्ह ओह नह उन्ह उन्ह इह्ह अहह आह आह आह आह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह इह्ह इह्ह ओह्ह ओह ओह  उन्ह उन्ह ओह्ह इह्ह आह आह आह अह  आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह उन्ह की सिस्कारियां निकल रही थी | थोड़ी देर के बाद उसने मेरे लंड को मुहं मे लिया और उसको जोर जोर से चूसने लगी थी | अब वो मेरे लंड को मुहं मे जोर जोर के धक्के देकर आगे पीछे किये जा रहा थी और मुझे भी मजा आ रहा था  और मेरे मुह से भी आह आह आह आह आह आहा आह आह आह उन्ह उन्ह उन्ह उन्हुंह उन्हुंह ओह्ह ओह ओह्ह ओह्ह ओह्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह इह्ह इह्ह इह्ह आह आह की सिस्कारिया निकल रही थी | थोड़ी देर में मैं उसके मुह में ही झड गया | मैने उसको  पूरा जूस पिला दिया । वह उसे बहुत ही टेस्टी लगा | फिर मैने अपने लिप्स उसके लिप्स पर रख दिये और हम पांच मिनट तक चूमा-चाटी  करते रहे । इससे सना फिर से गरम हो गयी । हम दोनो ने अपनी जीभ एक दूसरे की जीभ से टच करा दी और हम दोनो एक दूसरे का टेस्ट कर रहे थे |

अब दस मिनट के बाद मैंने अपना लंड उसकी चूत मे डालना शुरू किया मैं इतना जल्दी में था की मुझे उसकी चूत का चेंद नही मिल रहा था फिर उसने मेरे लंड को अपनी  चूत के मुहं पर रखकर मुझे दिशा दिखा दी | फिर मैंने एक हल्का सा धक्का दिया कि वो चिल्ला पड़ी और कहा की धीरे-धीरे |दोस्तों मेरा लंड काफी लम्बा और मोटा था | जब उसकी चूत में अपना लंड धीरे-धीरे डालकर ढीली कर दी तब मैंने उसकी असली चुदाई शुरू किया वह जोर-जोर से आह आह आह आह आ आह आया हां हाहुंह उन्ह उन्ह उन्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह आह आह उन्ह उन्ह ओह्ह ओह्ह आह आह आह आह आह आह आह ओह्ह ओह्ह ओह्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह ह ओह ओह ओह्ह ओह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आहाह आह आह आह आह आह की सिस्कारिया ले रही थी | तभी मैंने अपने होंठ उसके होंठ पर लगा कर चूमने लगा |और अपने राईट हाथ से बूब्स दबाने लगा और मैं उसकी चूत में बहुत जोर जोर से धक्के दिये जा रहा था | मेरा पूरा लंड उसकी चूत में जा चूका था | तोड़ी देर बाद मै उसकी चूत  में ही झड गया था | और बेड पर आराम करने लगा | मैंने लगभग 20 मिनट तक उसकी चूत मारी थी | उसने फिर मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ कर सहलाने लगी और मुह मे रख कर चूसने लगी और मेरे मुह से आह आह आ हाह आह आः उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आह आः आह आह आह आह आह आः आह आह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह हह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह ओह्ह ओह्ह ओह आह आह की सिस्कारियां निकले जा रही थी | जब मेरा लंड खड़ा हो गया तब वो मेरे ऊपर आके अपने आप ही मेरे लंड को अपनी चूत में डाल लिया और जोर-जोर से मेंरे ऊपर कूद-कूद कर चुदे जा रही थी पर अपने मुह से जोरों से आह आह आह उन्ह उन्ह उन्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह इह्ह इह्ह इह्ह आह आह आह उन्ह उन्ह उन्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह उन्ह उन्ह उन्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह आह आह की सिस्कारिया निकाल रही थी | थोड़ी देर तक मैंने उसको लेट कर चोदा फिर मैं खड़ा हुआ और उसको घोड़ी बना कर उसकी गांड में अपना लंड डाला | और एकदम से धक्का दे दिया और चीख पड़ी और आगे की और बढने लगी | मैंने उसकी कमर को पकड़ लिया और चोदने ने लगा और वो आह आह आह आहा उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह ओह्ह्ह ओह्ह करके चीख रही थी | थोड़ी देर के बाद मैं जब झड़ने वाला था तब अपना लंड निकाल कर उसकी पीठ पर अपने लंड का माल डाल दिया |

तो दोस्तों ये ही मेरी कहानी इस तरह से मैंने नपाल में चूत का मजा लिया | आशा करता हूँ की आप लोगो को अच्छी लगेगी | मेरी इस कहानी का अगला भाग आप लोग जल्द पढने को पाओगे |