नौकरानी को पेल दिया


desi sex story कैसी हो चूत की मालकिनों और लंड के पुजारियों ? मैं नीरज हाजिर हूँ जोरदार चुदाई की कहानी लेकर | चलिए शुरू करता हूँ |
मैं एक फ्लैट में रहता हूँ और वो भी अकेले | कई बार दोस्तों के साथ रात में पार्टी करते हुए दारु भी पी लेता हूँ | एक दिन की बात है | रात में मैंने ढेर सारी दारू पी और इतनी पी की सुबह भी उतरी नही | रोज की तरह जब सुबह सुबह ७ बजे नौकरानी काम करने आई तो उस टाइम भी मैंने नशे में था | मैंने ध्यान से पहली बार उस दिन अपनी नौकरानी के बदन को देखा | उसकी उम्र कुछ खास नही बल्कि वही कोई 21 की होगी | उसने बताया था की उसकी शादी जल्दी हो गयी थी और उसका पति शराबी है इसीलिए वो काम करती है | मैंने नशे में अपना शैतानी दीनग चलाया और सोचा की चलो इसको भी पता है की मैं आज नशे में हूँ | एक बार कोशिश करके देखता हूँ | अगर काम बन गया तो अच्छा है वरना बोल दूंगा की नशे में गलती हो गयी | मैं उठा और किचेन में चला गया | पीछे से जाकर मैंने उसे पकड़ लिया और जान बुझ कर अपनी एक्स गर्लफ्रेंड का नाम लेकर बोला “रीमा, तुम मुझे छोड़कर कहाँ चली गयी थी.. मैं आज भी तुम्हे किस करता हूँ… तुम आ गयी हो न.. अब नही जाना मुझे छोड़ के” | मेरी नौकरानी जिसका नाम सीमा है, वो छुड़ा कर बोली साहब ये आपकी रीमा नही सीमा है | मैंने नशे की एक्टिंग करते हुए बोला “क्या फर्क पड़ता है सीमा हो या रीमा.. मुझे तो प्यार चाहिए.. बोलो.. दोगी मुझे प्यार? बहुत प्यासा हूँ प्यार का.. दे दो न.. बहुत एहसान होगा.. “ | ऐसा कहते हुए मैंने उससे लिपट गया और उसके लिप्स पर अपने लिप्स रख दिए | थोडा छुड़ाने की कोशिश के बाद वो भी साथ देने लगी | शायद उसे भी बहुत दिनों बाद ऐसे प्यार से किस मिली थी | मैं फिर उसे बेडरूम में ले गया और उसकी साड़ी उतार दी | अब मैं उसको किस किये जा रहा था और उसके दूध दबाये जा रहा था | वो भी मस्ती में आह अह्ह्ह्ह ह्ह्ह हह ऊऊ आकर रहा थी | फिर मैंने उसकी ब्रा निकाल दी और उसकी दूध पिने लगा | उसके दूध प्यारे थे | बहुत बड़े नही थे लेकिन कोमल थे और लटके नही थी | उसके दूध दबाते हुए मैंने उसकी चूत में अपनी एक ऊँगली घुसेड दी | वो चीख पड़ी और जोर से आ आआअ हह ह हह ह हह ह ह ऊ ऊऊ ऊऊ ऊ ऊऊउ ई इ इ ई इ ई इ उ उ ऊऊउ ऊ ऊ उ ऊऊउ इ इ ई ईईइ इ इ इ इ ई इ ईईइ इउ ऊऊअ आआअ अ अ अ अ अ आ अ अ ह्ह्ह ह्ह्ह्हह्ह उ ऊ ऊऊ उ ऊ उ उ ऊऊ इ ईईइ इ ईईईइ इ ऊऊऊ ऊ इ इ ईईईइ इ ईईइ इ इ ईई इउ उ उ ऊ उ उ ऊऊ ई इ इ ईईईईईइ ईईईईइ इऊऊ ऊईइ ईई ईई करने लगी | उसकी चीखें सुन कर मुझे जोश आ गया | मैंने अपनी पेंतुतरी और अपना लौड़ा उसके मुंह में घुसेड दिया | पहले तो उसने चूसने से इंकार किआ लेकिन फिर मान गयी | वो बड़े प्यार से मेरा लौड़ा चूस रही थी और मुझे भी मजा आ रहा था | मैंने उसको मेरे टट्टे चाटने को भी बोला | वो मेरी बात मान गयी और मेरे लंड के साथ साथ टट्टे भी चाटने लगी | मुझे बहुत मजा आ रहा था | फिर मैंने उसकी पेंटी उतर दो और उसकी चूत में ऊँगली करना शुरू कर दिया | वो बोली साहब अब और नही तडपाओ, बहुत प्यासी है मेरी चूत, चोद दो इसे | मैंने बोला ठीक है | फिर मैंने उसकी टांगों को फैलाया और अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया | वो चीख पड़ी | मैंने फिर धीरे धीरे उसकी चूत को चोदना शुरू कर दिया | वो मस्ती में आआ ह्ह्ह्ह ह हह ह हह ह ह्ह्ह ऊऊऊ ऊ ऊऊ ई इ ईईइ ईई ई इ ईआह्ह्ह्ह ह्ह्ह ह्ह्ह हह ह्ह्ह ह ह्ह्ह्हह उ उ ऊऊउ उ ऊऊऊउ ईईइ इ ईईइ ईईईई उ ऊ उ ऊ उ आःह हह ह्ह्ह ह ह्ह्ह्हह हह उ उ ऊ ऊऊउ इ इ ईईई इ ईई ई उ उ ऊ उ ऊऊउ चोदो मुझे.. ऊईईइ इ ईई इ ईई इ ई इ इ इ इआअ ह्ह्ह ह्ह्ह्ह हह ह्ह्ह्हह्ह्ह ऊऊऊउ ईई इऔर जोर से चोदो… ऊऊऊऊ ईईईईइ ऊऊऊओ ऊऊऊऊ ऊऊउ ह्ह्हह्ह्ह्ह ह ह्ह्ह हुई ई इ ईई ईईइ ऊऊ ऊऊऊइ इ ईईई ईईइ इ उ उ ऊ ऊऊ ऊईईइ इ ईईईइ ई उ ऊ ऊऊ ई ईई ईई ई ईईई ई ईईई ई ईईइ इ इ इ ई इ ईईई इऊ उ उ उ उ उ ऊ अ करने लगी | अब मैंने उसको घोड़ी बन्ने को बोला | वो बन गयी और मैंने उसकी चूत में एक ही झटके में अपना लंड पेल दिया | वो फिर से उईई मां ऊऊऊई ई ईई ई इ ई इ इ ई इआह्ह्ह्ह हह ह्ह्ह्ह हह हह ह उ ऊ उ ऊ उ ऊऊउ ईईइ चोदो मुझे ऊऊऊ ऊईई ईई इ ई ओ इ ऊऊऊऊ ओ ओऊ ओ ओ ऊ ऊऊ ओआअह्ह्ह्ह हह ह ह्ह्ह्ह ह ऊ उ ऊऊ ऊ उ इ इ ईईइ उ उ उ ऊऊउ ऊ उ ऊऊ उई इ ईईईइ इउ ऊऊऊउ ऊ ऊ ऊ ऊऊऊऊ ई ईई ई ईईइ ई ईईई इ ऊऊऊउ उ ईईआअ अ आआअ आआह्ह्ह्ह ह ह्ह्ह ह ह हह ह ह हह ह ह हह ह ह हह ह्ह्ह्हू उ ऊ उ ऊऊ उ उ ऊ उ ऊ ऊऊ ऊ ईईईई इ ई इ इ ईईइ ईईईई ई ईई ई करने लगी | उसकी इन सिसकियों ने मरे जोश को दुगना कर दिया | अब मैं खुद लेट गया और उसको मेरे लंड पर उछलने को बोला | वो मेरे लंड पर आ गयी और उसे अपनी चूत में डाल कर उछलने लगी | वो मोनिंग करते करते अपनी चूत चुदवा रही थी | मुझे भी मजा आ रहा था और उसे भी | मैंने स्पीड बधाई और उसकी चूत पर हमला बोल दिया | अब मैं उसकी चूत चोदने के साथ साथ उसके चुतादों पर थप्पड़ भी मार रहा था | मेरे ऐसे करने से उसकी सिसकियाँ बढ़ गयी | अब वो और जोर से आआआआ आःह्ह ह ह्ह्ह्हह्ह ह यूऊ उ उ ऊऊउ उ उ ऊ उ ऊ उ उ ई इ ई ई इ ईई ई ईईई इ ई इ इ ई इ इ ऊ उ उ ऊ उ उ ऊऊऊ उ उ ऊ ऊ उ उआआहाअ अ अ अ अह्हहह्ह्ह हह ह ह ह हह ह हह ह ह हह ह ह ह हह ह्हहा अ अ आ अ अ अ अ अ अ आआ अ अ अह्ह्ह हह हह उ ऊ ऊ उ उ उई इ इ ई इ इ इ ई इ इ ईईइ ई इ ई ईई ई ईईइ इ इ ई इ ओई ओई इ इ ई इ इ ईईईईइ इ इ इ इ इऊ ऊऊ उ उ उ ऊऊ उ चोदो मुझे… ऊऊओ ऊऊओ ऊ ओ ओ ओ ऊ उ उ ऊऊउ ऊ ई ईईइ इ इ इ ई इ इ ई इ इ ईईई इ इ ई इ इ इ ईईई ई और जोर से चोदो… आःह आआह्ह्ह ऊह्ह्ह्हह ओह्ह्ह्हह्ह ऊऊऊऊऊउ उ उ उ ऊ उ उ उ ऊ उ ह हह ह्ह्ह्ह ह ह ऊह्ह्ह्ह हह ह हह ह ह ऊ ओ ऊ ह हह ह्ह्ह ह हह ह ह हह उ ऊऊऊईई इ इ ईई इ ई इ इ इ इ ईईई करने लगी | मेरा जोश सातवें आसमान पर था | मैंने उसकी चूत को चोदना चालू रखा |
थोड़ी देर बाद वो झड़ने लगी | मैंने चुदाई की स्पीड बढ़ा दी | थोड़ी देर की जोरदार चुदाई के बाद मुझे लगा की मैं भी झड़ने वाला हूँ | मैंने उससे मेरे लंड को मुंह में लेने को बोला | उसने वैसा ही किआ | अब वो मेरा लंड चूस रही थी और मैं मजे ले रहा था | थोड़ी देर बाद मैं झड गया और उसके मुंह में ही सारा माल निकाल दिया | फिर हम दोनों लेट गये | थोड़ी देर के बाद वो बोली की साहब अब जाना होगा | काम भी करना है फिर घर भी जाना है | मैंने बोला की आज काम काफी कर चुकी हो | अब रहने दो और शाम को करना सीधा | वो मान गयी | फिर हमने फिर से एक बार चुदाई की |
तो दोस्तों, ये थी मेरी कहानी की कैसे नशे की हालत में एक्टिंग करते हुए मुझे अपनी कमसिन नौकरानी की कसी चूत चोदने का मौका मिला | उस दिन अगर मैंने ओव शुरू न किआ होता तो आज मैं आप लोगों को ये कहानी न सुना रहा होता | चलिए दोस्तों, जल्द ही मिलता हूँ अपनी अगली कहानी के साथ | कमेंट में अपनी राय बताना मत भूलियेगा | तब तक के लिए अलविदा |