मेरे डिपार्टमेंट वाली


sex stories in hindi

हाय फ्रेंड्स, कैसे हैं आप सब ? मैं आशा करता हूँ कि आप लोग अच्छे ही होंगे | मेरा नाम प्रीतम है और मैं गोरखपुर का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 32 साल है और मैं अभी सरकारी नौकरी करता हूँ | मैं दिखने में सांवला हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 10 इंच है और मैं हेल्थ वाइज भी अच्छा ख़ासा हूँ | फ्रेड्स, मैं इस चुदाई की साईट का रोजाना पाठक हूँ और मुझे इस साईट पर चुदाई की कहानियां पढना बहुत पसंद है | मुझे खासकर आंटी वाली कहानियां पढना अच्छा लगता है | फ्रेंड्स, मैं आज जो आप लोगो के समक्ष अपनी कहानी लिखने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैं ऐसी उम्मीद करता हूँ कि आप लोगो को मेरी कहानी बेहद पसंद आएगी | ये मेरी पहली कहानी है और हो सकता है कि इसमें कुछ गलती हो जाये तो कृपया इसे नजरंदाज कर के कहानी का मजा ले | तो अब मैं आप लोगो के कीमती समय को ज्यादा ना लेते हुए अपनी कहानी लिखना शुरू करता हूँ |

फ्रेंड्स, मेरे घर में मेरे मम्मी पापा और मेरी दो बेटियां रहती है | मेरे पापा अभी प्राइवेट स्कूल में टीचर हैं और मम्मी घर का ही थोडा बहुत कम करती है | मेरी दोनों बेटियां अभी स्कूल में पढाई करती हैं और जैसा कि मैंने आप लोगो को बता चुका हूँ कि मैं सरकारी नौकरी करता हूँ | मैं एक प्रकार से रंडवा हूँ क्यूंकि मेरी पत्नी मर चुकी है | मेरी पत्नी रीना दिखने में बहुत गोरी और बहुत सुन्दर थी | लेकिन हमारा साथ ज्यादा समय तक नहीं बीता क्यूंकि एक रात उसके सीने में उसे दर्द उठा तो मैंने जल्दी से उसे हॉस्पिटल ले कर गया लेकिन जब वहां डॉ. ने देखा तो कहा कि आपकी बीवी की मौत हो चुकी है | कसम से मुझे उस पल ऐसा लगा जैसे मेरी जिन्दगी वीरान हो चुकी है | मैं अपनी बीवी से बहुत प्यार करता था | लेकिन उसकी मौत के बाद मुझे हिम्मत देने वाली मेरी दोनों बेटियां ही थी | मेरी बेटियों ने मुझसे कहा कि पापा कोई बात नहीं मम्मी ही बस नहीं रही न आप तो हो न हमारे लिए | ये बात सुन कर मैंने सोच लिया था कि अब मैं अकेले ही सबकी जिम्मेदारी उठाऊंगा | तब से ले कर मैंने आज तक कभी अपने घर में किसी भी चीज़ की कमी नही रखी | मैं जब भी रात को सोता था तब मुझे मेरी बीवी ही नजर आती थी | मुझे रात भर नींद नहीं आती थी तो मैं ये चुदाई की कहानियां पढ़ कर मुट्ठ मार कर सो जाया करता था | हमारे यहाँ एक बाई है वो घर के सारे काम करती है | मेरे डिपार्टमेंट में एक शादीशुदा महिला है उसका नाम अंकिता गोंड है | वो दिखने में गोरी है और उसकी हाईट 5 फुट ७ इंच है और उसका फिगर बहतु ही कंटीला है | उसके बड़े बड़े चूतड मुझे बहुत अच्छे लगते हैं |

loading...

हमारी रोज बात होती थी और हम साथ ही में खाना खाते थे | मेरा मन उसे चोदने का करता था लेकिन मैं अपना घर खाली होने का वेट करता पर ऐसा मौका ही नहीं आ रहा था | एक दिन की बात है मैंने अंकिता से बातो ही बातो में मैंने पूछा कि तुम्हरा पति करता क्या है ? तो उसने बताया कि मेरा पति सिर्फ दारु पीता है और मेरे साथ गाली गलोच करता है | उसके पास कोई काम धाम तो रहता नहीं बस मेरे ही पैसों पर जी रहा है साला | मैंने उससे डायरेक्ट पूछ लिया कि फिर तो तुम्हे प्यासी ही सोना पड़ता होगा ? तो उसने कहा हाँ क्या करे | ऐसा पति है कि इतनी सुन्दर बीवी होने के बाद कुछ नहीं करता | अगर वो ऐसा ही करता रहेगा तो मैं किसी और के साथ भाग कर शादी कर लूंगी | मैंने उससे कहा कि किसी और के साथ मत भागना | तो उसने पुछा क्यूँ ? तो मैंने कहा मुझे तुम पसंद हो | किसी और के साथ भागने से अच्छा है कि तुम मुझसे ही शादी कर लो | इससे दोनों का फायेदा होगा | पहला ये कि मुझे बीवी मिल जायेगी और तुम्हे एक अच्छा पति | तुम तो खुद जानती हो कि मेरे कोई भी बुरे शौक नहीं हैं | मेरी बाते सुन कर वो मुस्कुरा उठी | मैं समझ गया कि मेरी कहानी अब सेट है | हम दोनों रोज ही फ़ोन पर बात किया करते थे | फिर एक दिन उसने मुझसे कहा कि आज मेरा घर खाली रहेगा | तो उस दिन मैं ऑफिस नहीं गया और मस्त तैयार हो कर उसके घर गया और फिर हम दोनों साथ में सोफे पर बैठ कर बात कर रहे थे और उसके बाद | मैं उसकी आँखों में आँखे मिला रहा लगा और वो भी मेरी आँखों में अपने प्यार को देख रही थी | कुछ देर ऐसी ही देखने के बाद हम दोनों एक दूसरे के पास सरक आये और फिर मैंने एक हाँथ उसकी गर्दन पर रखा और अपने चेहरे के पास उसका चेहरा ला कर उसके होंठ में अपने होंठ रख दिए और उसके होंठ के रस को चूसने लगा | वो भी मेर साथ देते हुए एक हाँथ मेरी गर्दन के पीछे कर के मेरे होंठ को चूसने लगी | मैं उसके होंठ को चूसते हुए उसके दूध को मसलने लगा तो वो भी मुझे किस करते हुए मेरे शरीर को सहलाने लगी | कुछ देर किस करने के बाद मैंने उसका दुपट्टा हटा दिया और फिर उसके सलवार को उतार कर ब्रा के ऊपर से ही उसके मम्मों को मल्सने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह करते हुए सिसकी भरने लगी | फिर मैंने उसके पीछे हाँथ कर ब्रा के हुक खोल कर उतार दिया और उसकी छाती को चूमते हुए दोनों दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह करते हुए सेक्सी सेक्सी आवाज़ निकालने लगी |

मैं उसके निप्पलस को जोर जोर जोर से खींच कर चूस रहा था और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह करते हुए जोर जोर से सिस्कारियां ले रही थी | उसके बाद मैंने अपनी शर्ट को उतार दिया तो वो अपने हाँथ को मेरे सीने में चलाने लगी जिससे मुझे गुदगुदी होने लगी | फिर मैंने अपने पेंट को भी उतार दिया और चड्डी भी | मैं एक दम नंगा उसके सामने खड़ा था लंड लटकाए हुए | फिर उसने मेरे लंड को धीरे से उठाया और अपनी जीभ से सहलाने लगी तो मेरे मुंह से भी आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह की आवाज़ निकलने लगी थी क्यूंकि मैं भी गरम हो चुका था | मेरे लंड को चाटने के बाद मेरे लंड को अपने चेहरे में सजा कर मेरे गोटों भी चूसने लगी तो मैं भी आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह करते हुए मजे ले रहा था | फिर वो लंड के सुपाड़े को चूसने लगी तो मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह करते हुए उसके बालो को सँवारने लगा | फिर उसने पूरे लंड को अपने मुंह के अन्दर डाल लिया और चूसने लगी तो मैं भी आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह करते हुए उसके मुंह की चुदाई करने लगा | उसके बाद मैंने भी उसके पायजमा को उतार दिया और पेंटी भी खींच कर उतार कर उसे भी नंगा कर दिया | उसकी चूत बहुत ही सुन्दर लग रही थी | फिर मैं उसकी टांगो को खोल कर अपनी जीभ से चाटने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह करते हुए मचलने लगी | मैं उसकी चूत को चाटते हुए दो ऊँगली से चोदने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह करते हुए जोर जोर से सिस्कारियां ले रही थी | कुछ देर बाद मैंने अपने लंड को उसकी चूत में रगड़ा और अन्दर घुसेड दिया और चोदने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह करते हुए चुदाई के मजे लेने लगी | फिर मैंने अपनी चुदाई की रफ़्तार बढ़ा दिया और दोनों दूध के निप्पलस को खींचते हुए चोदने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह करते हुए अपनी गांड उठा उठा कर चुदाई में साथ देने लगी | फिर मैंने उसे पलटा दिया और पीछे से उसकी चूत में अपना लंड घुसेड कर कमर पकड कर चोदने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊमंह आहा ऊम्ह ऊंह आहा ऊम्ह करते हुए अपनी कमर मटका मटका चुदा रही थी | करीब आधे घंटे की चुदाई के बाद मैंने अपना माल उसके दूध पर छोड़ दिया |

तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी | मैं उम्मीद करता हूँ कि आप लोगो को मेरी कहानी बेहद पसंद आई होगी |


error: