मरीज की चूत और गांड की मस्त चुदाई


hindi sex stories हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप सभी लोग ? मैं आशा करता हूँ की आप सभी लोग ठीक ही होगे | मेरा नाम सुरेश है | मैं रहने वाला बिहार का हूँ | मेरी उम्र 28 साल है और मैं एक डोक्टर हूँ | मेरी हाईट 5 फुट 8 इंच है और मेरे लंड का साइज़ 6 इंच है मोटा 2.5 इंच है | मैं दिखने में बहुत गोरा हूँ और मेरी बॉडी भी ठीक ठाक है जिससे में स्मार्ट लगता हूँ | मैं सेक्सी कहानी काफी दिनों से पढता आ रहा हूँ इसलिए मुझे भी अपनी कहानी लिखने की इच्छा थी और आज मैं एक कहानी लेकर आया हूँ | ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | ये मेरी पहली कहानी है इसलिए आप लोगो को कहानी में गलती भी नज़र आ सकती हैं अगर आप लोगो को कहानी मैं गलती नज़र आती हैं तो मुझे माफ़ करना | मैं उम्मीद करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आयेगी और कहानी को पढने में आप लोगो को मज़ा आयेगी | मैं आप लोगो का ज्यादा समय ने लेते हुए सीधे अपनी कहानी पर आता हूँ |

ये कहानी कुछ दिन पहले की हैं जब मैं एक किलीनिक चला रहा था | तब मेरे किलीनिक पर रोज मरीज आते थे | एक दिन की बात है जब मेरे किलीनिक पर एक लड़की आई | उसका नाम साबित था और वो दिखने में दूध की तरह गोरी थी | उसका फिगर भी मस्त था | मैं आप लोगो को उसके फिगर के बारे मैं बता देता हूँ | उसके बड़े बड़े बूब्स और उसकी बड़ी चौड़ी गांड थी जिसको देख कर किसी की भी नियत ख़राब हो जाये | पर उस दिन वो मेरे यहाँ दवाई लेने पहली बार आई थी और मैंने उस दिन उसको देखने के लिए उसका हाथ भी पकड़ा था | उसका इलाज काफी दिन चलना था इसलिए मैंने उसे पहले थोड़ी दवाई लिख दी और फिर वो चली गयी | जो दवाई में लिख कर देता था वो दवाई मेरे ही मेडिकल पर मिलती थी | फिर कुछ दिन बाद वो लड़की भी आई और इस बार जब वो आई थी तो वो मुझे बहुत ही सेक्सी नजरो से देख रही थी | मैंने उससे पूछा अब कोई परेशानी है तो उसने बताया हाँ अभी यहाँ पर दर्द होता रहता हैं तब मैं थोड़ी सी दवाई और उस दवाई में बढ़ा दी | फिर वो जाती हुई मेरी और देख कर हँसने लगी और फिर वो चली गयी तो मैं समझ गया की ये लड़की मुझे लाइन मारती है | इस तरह से मैं उसको जान गया की ये मुझसे चुदाई करवाना चाहती है |

फिर 1 महीने के बाद वो फिर आई और जब वो आई तो वो मेरी तरफ सेक्सी नज़रो से देख रही थी | तब मैंने उससे पूछा अब तो ठीक हो या अभी भी कोई परेसानी है तो वो बोली की मेरे दिल मैं दर्द हो रहा है | फिर उसने मुझसे कहा की आप अपना हाथ दो और मैंने उसे अपना हाथ दिया तब यो मेरे हाथ को अपने एक दूध पर रख के बोली की सर यहाँ पर दर्द हो रहा है साथ मैं मेरे हाथ से अपने दूध को दबाने लगी | तो मैंने कहा देखना पड़ेगा तब वो बोली तो देखो न मैं भी तो देखना चाहती हूँ और फिर मैंने पर्दा फैला दिया और उसके बूब्स को अपने हाथ से दबाते हुए उससे पूछा रहा की यहाँ हो रही है | तब वो बोली की अब नही हो रही है और फिर उसने मेरी होठो पर अपने होठो को रख कर मेरी होठो को चूसने लगी | तो मैंने भी उसके बूब्स को दबाते हुए उसके उसकी होठो को चूसने लगा | फिर मैं उसकी टी शार्ट में हाथ को अन्दर डाल कर उसके निप्पल को पकड कर दबाने लगा तो उसके मुंह से ऊँ ऊं उह हाँ हाँ हाँ उह्ह उफ़ उह… माँ.. माँ.. ईई इह्ह्ह की सिसिकियाँ लेने लगी | मैं उसके बूब्स को ऐसे ही 5 मिनट तक दबाता रहा और फिर उसको अपना नम्बर दे दिया और कहा तुम दवाई लेके जाओ | फिर वो चली गयी और रात मैं फ़ोन किया तब मैंने उससे सेक्सी बाते की और मेरा लंड खड़ा हो गया | उस रात को मैंने मुठ भी मारी |

loading...

संडे के दिन मैंने उसे अपने घर पर बुलाया क्यकी मेरा किलीनिक संडे को बंद रहता हैं | फिर वो मेरे घर आई तो मैंने उसको अपनी बांहों मैं भर लिया और उसकी होठो पर एक छोटी सी किस की | फिर मैं उसके साथ बैठ कर कुछ देर तक बाते करने के बाद मैं उसकी होठो पर अपने होठो रख कर उसकी होठो को चूसने लगा और वो मेरी होठो को चूसने लगी | मैं उसकी होठो को कुछ देर तक ऐसे ही चूसता रहा और साथ मैं उसके दूधो को दबते हुए उसे कुछ देर तक ऐसे ही किस करता रहा | फिर मैंने उसके कपड़े निकाल दिए और उसके गले में किस करने लगा | मैं उसके गले में किस करते हुए उसके पीठ में किस करते हुए उसके पुरे जिस्म में किस कर रहा था | फिर मैं उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा और दुसरे वाले को अपने हाथ में पकड़ कर मसलने लगा तो उसके मुंह से ईह्ह इह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ हाँ हाँ हाँ माँ माँ इह्ह.. इह्ह.. उफ्फ्फ.. की सिसिकियाँ लेने लगी | फिर मैंने उसके पहले वाले दूध क छोड़कर दुसरे वाले दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा और पहले वाले को हाथ में पकड कर दबाने लगा | मैं उसके दोनों दूधो को ऐसे ही चूसता रहा और वो गर्म हो गयी तो मेरे लिपट गयी | तब मैं उसके गले में किस करने कर मैंउसके ऐसे ही पुरे जिस्म में पुरे 15 मिनट तक करता रहा जिससे उसके जिस्म में आग लग गयी और वो बोली की मेरी चूत में लंड डालो अब मैं चुदना चाहती हूँ | तब मैं उसकी टांगो को फैला दिया और उसकी चूत में अपने मुंह को घुसा दकर उसकी चूत को चाटने लगा | मैं उसकी चूत के दाने को मुंह में पकड कर खीच खीच कर उसकी चूत को चाट रहा था | तब वो हाँ हाँ हा ह्ह्ह्ह अह्ह्ह अहह उम्म्म उम् इह्ह्ह इह्ह हीईईइ अह माँ माँ माँ….. करती हुई अपनी चूत को चाटने लगी | मैं उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर उसकी चूत को चाटने लगा | मैं उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसाने के साथ मैं अपनी ऊँगली भी घुसा कर अपनी ऊँगली को अन्दर बाहर करने लगा | फिर मैं उसकी चूत में अपनी 2 उँगलियाँ घुसा दी तो वो ईह्ह इह्ह्ह उह्ह्ह फ्फ्फ माँ माँ हाँ हाँ हाँ…. करने लगी | मैं उसकी चूत में अपनी उँगलियों को अन्दर बाहर करते हुए उसको अपनी ऊँगली से चोदने लगा | मैं उसकी चूत में ऐसे ही 10 मिनट तक उसकी चूत में करता रहा |

तब उसके मुंह से निकल गया की तब तक मुझे ऐसे ही सताओगे ? तब मैंने अपने कपड़े निकाल कर अपने लंड के मुंह पर थोडा सा थूक लगाकर उसकी चूत के मुंह पर अपने लंड को रख कर एक ही धक्के में आधा लंड को घुसा दिया और उसको चोदने लगा | तब वो हाँ हाँ हाँ उम् उम्म्म हा हा माँ माँ उई उई उन अह हाँ….. करती हुई चूसने लगी | मैं उसकी दोनों टांगो को फैला कर उसकी चूत में जोर जोर के धक्को के साथ चूत में अन्दर बाहर करते हुए उसको चोदने लगा | मैं उसकी चूत में जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए उसको चोद रहा था साथ मैं उसके दोनों दूधो को अपने हाथ में पकड कर मसल रहा था | तब उसके मुंह से ईइ ह्ह्ह हाँ हाँ हाँ उम् उम् उम् अहह माँ माँ उई उई माँ माँ माँ….. की सिसिकियाँ लेती हुई अपनी चूत को सहलाने लगी | फिर मैंने अपने लंड को उसकी चूत से निकाल कर अपने लंड को उसके मुंह में डाल कर चुसाने लगा | वो मेरे लंड को मुंह में रख कर जोर जोर से मेरे लंड को चूसने लगी | मैं अपने अपने लंड को उसके मुंह में धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा तो वो मेरे लंड को अपने मुंह में अन्दर बाहर करती हुई ऐसे ही 5 मिनट तक चूसती रही | फिर मैंने उसे वहीँ पर घोड़ी बना दिया और उसकी चूत में उसके पीछे से लंड को डाल कर जोरदार धक्को के साथ उसको चोदने लगा | मैं उसकी चूत में पीछे से अन्दर बाहर करता हुए उसको चोद रहा था तो उसके मुंह से उईइ उई उई उई माँ माँ उई माँ उह्ह हाँ हाँ उई माँ हाँ हाँ माँ…. करती हुई चुदने लगी | मैं उसकी चूत में पीछे से लंड को तेज स्पीड से उसकी चूत में अन्दर बाहर करने लगा तो वो अणि चूत को आगे पीछे करती हुई चुदने लगी | मैं उसकी चूत में जोर जोरसे अन्दर बाहर करते हुए उसको चोद रहा था | वो मेरा साथ देती हुई अपनी चूत को आगे पीछे करती हुई चुदने लगी | फिर मैंने उसकी कमर को पकड कर और तेज स्पीड में अपने लंड को अन्दर बाहर करने लगा तो मेरा लंड उसकी चूत में अन्दर तक जाकर उसकी बच्चेदानी में रगड़ता तो उसके मुंह से उई उई माई माँ उई माई माँ हाँ हाँ उह्ह उह्ह…. करती हुई चुदने लगी | मैं उसकी चूत में ऐसे ही कुछ देर तक उसको चोदता रहा और फिर 15 मिनट की मस्त चुदाई के बाद मेरे लंड ने सारा माल निकाल दिया | इस तरह से मैं उसकी मस्त चुदाई की और उसकी चुदाई करने में मुझे भी मज़ा आया |
मैं आशा करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी | कहानी पढने के लिए धन्यवाद |