लंड तो लेकर रहूंगी मैं


antarvasna, kamukta मैं बहुत ही महत्वाकांक्षी महिला हूं मुझे जो चीज पसंद आ जाती है उसे में अपना बना कर ही छोडती हूं। मैं एक बार एक स्वीट शॉप में मिठाई लेने के लिए गई वहां पर मुझे एक गबरु जवान बहुत पसंद आया उसकी लंबाई लगभग 6 फुट के आसपास थी, उसे अपना बनाने की चाह मैंने अपने दिल में पल ली थी। मेरी चूत उसे लेकर बहुत प्यासी थी, उसका लंड मैं अपनी चूत में लेने के लिए तैयार बैठी थी मैं जानबूझकर उसकी शॉप में बार-बार जाने लगी ताकि उस लड़के से मेरी बातचीत हो सके लेकिन वह कभी-कभार ही मुझे वहां पर दिखाई देता था अधिकतर उसके पिताजी ही दुकान में होते थे। मैंने भी ठान ली थी कि उससे अपनी चूत की खुजली में मिटा कर ही रहूंगी मैंने उसका नाम पता करवा लिया उसका नाम सनी है। उसने ही मुझसे पहले बात की।

मैं सनी के पीछे एकदम हाथ धो कर पड़ गई थी और सनी को मेरे बारे में ज्यादा कुछ पता नहीं था, मैं अपनी शादी से बिल्कुल भी खुश नहीं हूं मेरे पति बैंक में मैनेजर हैं और वह तो बिल्कुल भी रोमांटिक नहीं है यदि उनसे कभी भी कुछ प्यार की बातें करने की सोचो तो वह हमेशा ही अपना मुंह फेर लेते हैं और कहते हैं तुम्हें हमेशा यही सब सूझता रहता है तुम्हें पता है मैं अपने जीवन में कितनी मेहनत कर रहा हूं और उसी की वजह से हमारा घर चल पा रहा है। मैंने उनसे अब कुछ भी उम्मीद करना छोड़ ही दिया था लेकिन जब से मैंने सनी को देखा है उसके बाद से तो वह मुझे बहुत अच्छा लगने लगा मैं अधिकतर उसकी दुकान से ही मिठाई लेती थी। दिन मैं सनी की स्वीट शॉप में गई तो वहां पर सनी बैठा हुआ था जब मैंने पैसे कटवाए तो वह मुझे कहने लगा मैडम आप हमारी रेगुलर कस्टमर हैं मैं आपको हमेशा ही अपनी शॉप से मिठाई लेते हुए देखता हूं, मैंने सनी से कहा हां मैं अधिकतर आप की दुकान से ही मिठाई लेती हूं, सनी ने मेरा नाम पूछा मैंने सनी को अपना नाम बताया मैंने उसे कहा मेरा नाम शीला है और मैं यही पास में रहती हूं तुम्हारी दुकान की मिठाइयां मुझे अच्छी लगती है इसीलिए मैं तुम्हारी ही शॉप से हमेशा मिठाई लेकर जाती हूं।

सनी कहने लगा मैडम आप बहुत अच्छी बातें कर लेते हैं, मैंने सनी से कहा तुम भी दिखने में काफी अच्छे हो क्या तुम्हारी शादी हो चुकी है? सनी कहने लगा अभी शादी तो नहीं हुई है लेकिन मैं एक लड़की को पसंद करता हूं और उसी से मैं शादी करना चाहता हूं हम दोनों के बीच काफी समय से रिलेशन है और हम दोनों एक दूसरे को पसंद भी करते हैं। मैंने सनी से कहा क्या इस बारे में तुम्हारे माता-पिता को पता है? सनी मुझसे कहने लगा हां इस बारे में मैंने अपने माता पिता को बता दिया है और उन्हें लकी भी काफी पसंद है इसीलिए वह मेरी शादी उससे कराने को तैयार है लेकिन मुझे अभी कुछ और वक्त चाहिए, मैंने सनी से कहा तुम्हें किस चीज के लिए वक्त चाहिए तुम्हारी शॉप तो काफी अच्छी चलती है और मुझे जहां तक जानकारी है कि तुम अपने घर में इकलौते हो, सनी कहने लगा अपने घर में तो मैं एकलौता हूं लेकिन मैं अभी कुछ समय और चाहता हूं। मैंने सनी से कहा मैं भी चलती हूं फिर कभी फुर्सत में हम लोग बात करेंगे जैसे ही मैं दुकान से बाहर जाने वाली थी तभी सनी ने मुझे आवाज दी और कहां मैडम आप हमारे शॉप से कार्ड लेकर चले जाइए यदि आपको कभी भी कुछ मंगवाना हो तो आप मंगवा सकती हैं, मैंने सनी से कहा ठीक है आप मुझे अपना कार्ड दे दीजिए, सनी ने मुझे अपना कार्ड दिया और उसी कार्ड में सनी का नंबर भी था मेरे लिए तो यह बहुत खुशी की बात थी कि सनी का नंबर मुझे मिल चुका था और मैं अब सनी से मैसेज में बात करने लगी सनी से जब भी मैं मैसेज में बात करती तो वह मुझसे ज्यादा बातें नहीं करता था और उसका ज्यादा रिप्लाई भी नहीं आता। एक दिन मैंने सनी को फोन कर दिया और सनी से कहा क्या आज तुम अपनी शॉप पर हो? सनी कहने लगा नहीं शीला जी मैं आज कहीं बाहर गया हुआ हूं आप दूसरे नंबर पर फोन कर लीजिए। मैंने कहा ठीक है मैं दूसरे नंबर पर फोन कर लेती हूं लेकिन यह तो सिर्फ मेरा एक बहाना था मुझे सिर्फ सनी से बात करनी थी उस दिन के बाद तो सनी से मेरी अक्सर फोन पर बातें होने लगी सनी और मेरे बीच में जितनी भी बातें होती मुझे बहुत अच्छा लगता मैंने सनी को अपने बारे में सब कुछ बता दिया था मैंने सनी से कहा मैं अपनी शादीशुदा जीवन से बिल्कुल भी खुश नहीं हूं क्योंकि मेरे पति मुझ पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं देते।

एक दिन सनी और मैं फोन पर बात कर रहे थे मैंने सनी से पूछा क्या तुम अपनी गर्लफ्रेंड से बहुत ज्यादा प्यार करते हो? सनी कहने लगा हां मैं उससे बहुत ज्यादा प्यार करता हूं इसीलिए तो इतने वर्षों से हम दोनों के बीच रिलेशन है। मैंने सनी से कहा क्या तुम दोनों के बीच में कभी भी सेक्स संबंध बने हैं। सनी मुझसे कहने लगा आप यह किस प्रकार की बातें कर रहे हैं, मैंने सनी से कहा यदि तुम्हें यह बात बुरी लग रही है तो हम लोग कुछ और बात कर लेते हैं। सनी कहने लगा नहीं ऐसी कोई बात नहीं है मैंने सनी से दोबारा पूछा क्या तुम्हारे बीच में कभी सेक्स संबध बने हैं। वह कहने लगा हां मेरे और मेरी गर्लफ्रेंड के बीच में बहुत बार सेक्स हुआ है, मैंने सनी से अपनी इच्छा भी जाहिर की और उसे कहा क्या तुम मेरी इच्छा भी पूरी कर सकते हो ? सनी कहने लगा नहीं मैडम मैं सिर्फ अपनी गर्लफ्रेंड से ही प्यार करता हूं और उसी के साथ रिलेशन में हूं। उस दिन तो मैंने फोन रख दिया लेकिन कुछ दिनों बाद में उसे अपनी नंगी तस्वीरें भेजने लगी जब मैं उसे अपनी नंगी तस्वीर भेजती तो वह मुझे कोई भी रिप्लाई नहीं करता। सनी भी अपने आपको कितने दिनों तक रोकता आखिरकार वह मेरे बदन पर फिसल गया। एक दिन सनी का फोन मुझे आया और कहने लगा क्या आप घर पर ही हैं? मैंने उसे कहा हां मैं घर पर ही हूं सनी उस दिन मेरे घर पर आ गया।

जब वह घर पर आया तो सनी मुझे कहने लगा शीला जी आपकी नंगी तस्वीर देखकर मैं अपने आपको ज्यादा समय तक नहीं रोक पाया आपने मेरे अंदर की सेक्स भावना को जगा कर रख दिया है। मैंने सनी से कहा सनी मैं तो तुम्हारे लिए कब से तड़प रही हूं हम दोनों को ज्यादा देरी नहीं करनी चाहिए। मैंने सनी के सामने अपने कपड़े खोल दिए मै सनी के सामने एकदम नंगी खड़ी थी। जब सानी ने मेरे नंगे बदन को अपने हाथों से छुआ तो मेरे अंदर जैसे करंट सा दौड़ने लगा, सनी मुझे कहने लगा आपका बदन तो बड़ा ही गजब का है। मैंने सनी से कहा तुम देर मत करो जल्दी से तुम मेरी इच्छा पूरी कर दो। सनी ने भी अपने कपड़े खोल दिए उसका लंड ऊपर नीचे हो रहा था। जब सनी ने मेरे होठों को चूमना शुरू किया तो मेरे अंदर से गर्मी अधिक मात्रा में निकलने लगी, सनी ने जैसे ही मेरे स्तनों का रसपान किया तो मैंने भी सनी से कहा मैं तुम्हारे लंड को चूसना चाहती हूं। मैंने सनी के लंड को बहुत देर तक सकिंग किया जब उसके लंड से पानी बाहर निकल आया तो मैंने उसे कहा तुम अब मेरी चूत की गहराइयों में अपने लंड को डाल दो। उसने जैसे ही मेरी चूत के अंदर अपने लंड को प्रवेश करवाया तो मेरी योनि पूरी तरीके से गीली हो चुकी थी मेरी योनि से बहुत अधिक मात्रा में पानी बाहर की तरफ निकल रहा था सनी उसका बखूबी इस्तेमाल कर रहा था। वह मेरी चूत के अंदर बाहर अपने लंड को करता जाता उसने काफी देर तक मेरे साथ संभोग किया, जब मैं पूरी तरीके से उत्तेजित हो गई तो मेरे मुंह से सिसकियां निकलने लगी। उन सिसकिंयो के बीच में सनी का वीर्य पतन मेरी योनि में हो गया, हम दोनों ने एक दूसरे के साथ बहुत अच्छे से संभोग किया। मैंने कभी कल्पना नहीं की थी कि सनी के साथ में इतने अच्छे से सेक्स संबंध बना पाऊंगी उसने मेरी इच्छा को बखूबी पूरा किया। जिस प्रकार से हम दोनों ने एक दूसरे के साथ सेक्स का आनंद लिया मुझे बहुत ही खुशी हुई।


error: