लड़की की मचलती चूत की चुदाई


हैल्लो दोस्तों मेरा नाम शंकर है और मैं होशंगाबाद में रहता हूँ | दिखने में मैं गोरा हूँ और मेरी हाईट भी 5 फुट 9 इंच है और मेरा लौडे का साइज़ तो आपको स्टोरी में ही पता चल जायगा | दोस्तों ये मेरी पहली कहानी जो मैं आप लोगों के सामने पेश कर रहा हूँ, पर मैं डेली सेक्स स्टोरीज पढता हूँ और इसको पढ़ के मुठ भी मरता हूँ | तो दोस्तों मैं आप लोगों को ज्यादा बोर नहीं करूँगा और सीधा अब स्टोरी में आता हूँ |

ये घटना आज से करीब कई साल पहले की है जब मैं स्कूल में पढाई करता था | मैं उस चौथी कक्षा में था और मेरे साथ एक लड़की पड़ती थी जिसका नाम रंजना था वो उस समय बहुत क्यूट सी लगती थी और हम दोनों बहुत अच्छे से घुल मिल कर रहते थे और हम दोनों ही बहुत अच्छे दोस्त थे क्यूंकि मैं और वो आजू बाजु रहते थे और हमारा और उनका अच्छा व्यवहार चलता था | कई सालो से वो हमारे घर के पास ही किराये से रह रही थी | फिर जब एक साल बीत गया और मैं 5वी कक्षा में पंहुचा था उसके दो महीने बाद वो घर खाली कर के चले गए थे और इस बात से मैं अनजान रह गया था | फिर जब मैं घर वापस आया तो देखा की वो खाली करके चले गये हैं तब मुझे बहुत बुरा लगा था कि मैं आखिरी बार रंजना से नही मिल पाया था | ऐसे दिन बीतते जा रहे थे फिर धीरे धीरे सब नार्मल हो गया था | फिर मैं कोटा पंहुचा अपने आगे की पढाई करने और वहीं रूम ले कर रह रहा था और मुझे बिलकुल भी उम्मीद नहीं थी उसके मिलने की | एक दिन की बात है मैं पढाई कर रहा था पार्क में पेड़ के नीचे बैठ के तभी मेरी नजर रंजना पर पड़ी तो मैं तुरंत भागते भागते हुए गया और उसका हाँथ पकड़ के हाय रंजना कहा तो उसने अपना हाँथ छुडाते हुए मुझे जोर का एक थप्पड़ मारा और कहा तुम हो कौन तुमने मेरा हाँथ कैसे पकड़ा ? तब मैंने उसे बताया कि मैं शंकर हूँ तुम्हारे बचपन का दोस्त मैं उसे सब याद दिलाने की कोशिश करने लगा था पर उसे कुछ भी याद नहीं आ रहा था | फिर मैं भी गुस्से में वहाँ से निकल गया था | फिर वो भी निकल गयी थी, उसके अगले ही दिन वो मुझे फिर दिखी तो मैंने उसके मुंह पे रंडी बोल दिया था और फिर मैं वहाँ से निकल गया था इस बात को एक हफ्ता बीत चूका था |

एक हफ्ते के बाद उसने मुझे बुलाया जब मैं पार्क में बैठ कर पढ़ रहा था | उसने मुझसे गुस्से में कहा की तुमने मुझे गाली क्यूँ दी थी ? मेरी बेज्जती क्यूँ की थी गाली दे कर ? तो मैंने भी जवाब दे दिया था कि तुमने भी थप्पड़ मार के बेज्जती की थी वो भूल गयी तुम | इतना कह कर मैं जाने लगा और वो भी जाने लगी थी | उसके अगले दिन उसने मुझे फिर बुलाया और कहा सॉरी फिर मैंने भी उसे सॉरी कहा फिर धीरे धीरे बात हम दोनों की चालू हो गयी थी एक घंटे तक मैं उसे समझाने में की मैं वो ही शंकर हूँ जिसके साथ तुम पढ़ती थी और हम दोनों आजू बाजु रहते थे | फिर जब उसे सब आ गया था तब हम दोनों दोस्त बन गये थे फिर से |

अब दोनों साथ में बहुत ज्यादा टाइम बिताने लगे थे साथ में पढाई करना घूमना खाना और पार्क में बैठ कर पढाई करना मस्ती करना सब हम सतत में किया करते थे | फिर एक दिन मैंने उसे प्रपोस किया तो उस टाइम तो उसने मना कर दिया पर उसके अगले ही दिन उसने मुझे हाँ कर दी थी | अब हम दोनों को एक दुसरे से सच्चा वाला प्यार हो चूका था | एक दिन हम कॉलेज कैंपस के बाहर घूम रहे थे तो मैंने उससे एक किस करने को कहा ततो उसने मना कर दिया | मैं बहुत उदास हो गया था मैंने उसे कई दफा बोला था किस करने के लिए पर वो मना कर देती थी हर बार | फिर एक दिन मैंने सोच ही लिया था कि मैं किस करके ही रहूँगा तो मैंने उससे कहा की किस करना है मुझे तब उसने मना नहीं की और मैं और वो दोनों एक दूसरे को 5 मिनट तक किस करने लगे थे | मुझे किस करना बहुत अच्छा लग रहा था पर हमारे पास ज्यादा टाइम नहीं था तो बस 5 मिनट तक ही किस कर पाए थे | हर चीज़ के लिए मुझे  बहुत टाइम बाद रंजना की मंजूरी मिलती थी | एक दिन मैंने उससे कहा कि मुझे तुम्हारे दूध दबाने हैं तब उसने एक हफ्ता लगा दिया | फिर मैं उसे किस करते हुए उसके दूध दबाने लगा था वो ऊउन्न्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊम्म्म्ह उऊंन्ह्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह आअहाआ आआहा आआहा आआहा अआहा अआहा आआहा ऊउन्न्ह ऊउन्न्म्म करने लगी |

मैंने किस करते हुए उसके दूध 10 मिनट तक दबाये और वो ऊउन्न्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊम्म्म्ह उऊंन्ह्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह आअहाआ आआहा आआहा आआहा अआहा अआहा आआहा ऊउन्न्ह ऊउन्न्म्म करते जा रही थी | फिर ऐसे ही किस करते हुए और उसके दूध दबाते हुए हमे एक महीना बीत चूका था | एक महीने बाद हमारे कॉलेज में किसी फंक्शन की तैयारी चल रही थी तो मैं उसे एक एक कमरे में ले गया और हम दोनों किस अकरने लगे | मैं उसके दूध दबाने लगा तो वो ऊउन्न्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊम्म्म्ह उऊंन्ह्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह आअहाआ आआहा आआहा आआहा अआहा अआहा आआहा ऊउन्न्ह ऊउन्न्म्म करने लगी | फिर मैंने उससे कहा कि मुझे तुम्हारे साथ सेक्स करना है तो वो मना करने लगी कि शादी के पहले ये सब करना ठीक नहीं है और तुम इतनी जल्दी सेक्स के लिए मुझे बोल रहे हो मैं अभी कुंवारी हूँ मैंने आज तक सेक्स नहीं किया | मैंने उसकी चूत में हाँथ लगा दिया तो उसकी चूत गीली हो चुकी थी | तो मैंने उससे पुछा देखो तुम्हारी चूत गीली है और तुम मुझे सेक्स के लिए मना कर रही हो तो वो शर्मा कर ना ना करने लगी | पर मैंने ठान लिया था कि मैं चोद के ही रहूँगा फिर जैसे तेस उसे मनाया आखिरकार वो मान ही गई |

मैं फिर उसे किस करने लगा था और वो भी किस करने लगी और मैं साथ में दूध भी दबा रहा था | 10 मिनट तक हमने किस किया | फिर मैंने उसके कुर्ती को ऊपर किया और उसकी ब्रा सरका दिया और फिर मैं उसके दूध पीने लगा | वो ऊउन्न्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊम्म्म्ह उऊंन्ह्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह आअहाआ आआहा आआहा आआहा अआहा अआहा आआहा ऊउन्न्ह ऊउन्न्म्म कर रही थी | मैं जोर जोर से उसके दूध पीने लगा और वो लगातार ऊउन्न्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊम्म्म्ह उऊंन्ह्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह आअहाआ आआहा आआहा आआहा अआहा अआहा आआहा ऊउन्न्ह ऊउन्न्म्म करते हुए सिसकियाँ भर रही थी | 10 मिनट तक मैंने उसके दूध पिया और फिर मैंने उसका सलवार उतारी और पेन्टी भी उतार दी | ऐसा करने के तुरंत बाद ही उसकी चूत चाटने लगा | उसकी चूत में बाल भी थे पर मैं तब भी चाटता जा रहा था | वो ऊउन्न्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊम्म्म्ह उऊंन्ह्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह आअहाआ आआहा आआहा आआहा अआहा अआहा आआहा ऊउन्न्ह ऊउन्न्म्म कर रही थी | 10 मिनट तक मैंने उसकी चूत को चाटा और वो एक बार मेरे मुंह में ही झड चुकी थी ऊउन्न्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊम्म्म्ह उऊंन्ह्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह आअहाआ आआहा आआहा आआहा अआहा अआहा आआहा ऊउन्न्ह ऊउन्न्म्म करते हुए | फिर मैंने उसे अपना लंड चूसने को कहा तो वो मना करने लगी पर मेरे बार बार मिन्नतें करने पर वो मेरा लंड चूसने लगी | मुझे बहुत मजा आ रहा था | वो चूस तो पहली बार रही थी पर बहुत प्यारे तरीके से चूस रही थी | बीच बीच में मेरे गोटे को भी किस क्र रही थी | फिर मैंने उसे लेटाया और उसकी चूत में लंड डालने की कोशिश करने लगा तो वो फिसल जा रहा था कभी ऊपर की तरफ फिसलता तो कभी नीचे की तरफ | उस समय मेरा बहुत परेशान हो गया था | तो फिर से मैं उसकी चाट के गीली करने लगा और वो फिर से ऊउन्न्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊम्म्म्ह उऊंन्ह्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह आअहाआ आआहा आआहा आआहा अआहा अआहा आआहा ऊउन्न्ह ऊउन्न्म्म करने लगी | जब उसकी चूत अच्छे से गीली कर दिया तो फिर मैंने उसकी चूत में झटके से लंड डाल दिया और वो चीखने लगी ककि लंड निकालो बहुत दर्द हो रहा है पर मैं कहाँ सुनने वाला था | मैं उसे चोदने लगा और वो ऊउन्न्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊम्म्म्ह उऊंन्ह्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह उऊंनंह आअहाआ आआहा आआहा आआहा अआहा अआहा आआहा ऊउन्न्ह ऊउन्न्म्म करके चिल्लाये जा रही थी | जब चोदते चोदते थक गया तो उसके मुंह में सारा माल झाड दिया |

दोस्तों ये थी मेरी कहानी | आशा है आप लोगों को पसंद आई होगी | अपनी राय देना मत भूलियेगा |


error: