काम के बीच से समय निकाल कर किया चुदाई


desi sex stories, indian sex kahani

नमस्कार दोस्तों, कैसे हैं आप सभी ? मैं आशा करता हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे | मेरा नाम सौरभ है और मैं तीन पुलिया में रहता हूँ | मेरी उम्र छब्बीस साल है और मैं अभी जॉब करता हूँ आई.एम.सी कंपनी में | आप लोगो ने इस कंपनी का नाम नहीं सुना होगा क्यूंकि ये कंपनी अभी नयी आई है और ये एक आयुर्वेदिक प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनी है | मेरी हाईट पाँच फुट नौ इंच है और मेरा बदन अच्छा ख़ासा फिट है और मेरा रंग सांवला है | दोस्तों मैं इस साईट का बहुत बड़ा फैन हूँ और मुझे जब भी मौका मिलता है तो मजे के लिए एक आद कहानी पढ़ लेता हूँ क्यूंकि इसमें मुझे कहानियां पढने में मजा आती है | दोस्तों आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी पेश करने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैं आशा करता हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी जरुर अच्छी लगेगी | तो अब मैं आप लोगो के ज्यादा समय नहीं लेते हुए सीधा अपनी कहानी शुरू करता हूँ |

ये घटना कुछ समय पहले की है | मेरे घर में मम्मी ( सुनीता दहिया ), पापा ( सुरेश दहिया ), बड़ा भाई ( दिनेश ), छोटी बहन ( पिंकी ) रहते हैं | मम्मी हाउसवाइफ हैं और पापा सरकारी नौकरी करते हैं | बड़ा भाई अभी दिल्ली में रह कर जॉब करते हैं और मेरी छोटी बहन अभी कॉलेज में है | दोस्तों जब मैंने स्कूल पास किया तो मेरा मन ही नहीं हुआ कि मैं आगे की पढाई करुँ | इसलिए मैंने सोचा कि जॉब ढूंढ लूं तो कम से कम मेरे पास पैसे रहेंगे जीभ में और बार बार घर से पैसे नहीं लेने पड़ेंगे वरना ऐसे पैसे मांगो तो फिर ताने मिलने लगते हैं | तो मेरे एक दोस्त ने बताया कि यार मेरे एक भैया ने अभी नया काम लिया है आई.एम.सी. का तो तू चाहे तो कर सकता है वहां | मैंने कहा हाँ भाई भैया से बात कर ले यार | उसने कहा ठीक है भैया ने वैसे नयी रोड में दूकान खोली हैं तो तू वहां जा कर बात कर लेना कल | मैंने कहा ओके | फिर मैंने उसके बड़े भाई से बात की तो उसने मुझे काम पर रख लिया | मेरा काम था हर घर में जा कर आयुर्वेदिक प्रोडक्ट को बेचना | यही करते करते मुझे काफी समय हो गया और मैं अच्छी खासी सेल भी लाने लगा जिससे खुश हो कर भैया ने मेरी पगार बढ़ा दी | एक दिन की बात है मेरे घर में कोई भी नहीं था और मैंने भैया से उस दिन छुट्टी लेने की सोचा | तो भैया ने कहा कि यार आज तो हमारी मीटिंग है और बड़े साहब लोग भी आ रहे हैं तो तुझे आज तो रहना पड़ेगा | मैंने कहा भैया थोड़ी देर का टाइम दे दो मैं जल्दी ही आ जाऊंगा इतन बस कर दो मेरे लिए |

loading...

असल में मेरी एक गर्लफ्रेंड है जिसका नाम रागिनी है और वो दिखने में बहुत ही सुन्दर है और उसका फ्फिगर भी बहुत अच्छा है | भैया ने मुझसे कहा कि ठीक है एक घंटे में आ जाना | मैंने कहा ओके और घर जा कर अपनी बटेर को फ़ोन किया और कहा कि आज मेरा घर खाली है तुम कहा हों ? तो उसने कहा कि मैं बच्चू की दूकान में हूँ |  तो मैंने कहा ठीक है वहीँ रुकना मैं तुम्हे लेने आता हूँ और फिर मैं चुपके से उसे अपने घर ले कर आ गया और जल्दी से दरवाजा बंद कर दिया ताकि कोई मुझे नहीं देख पाए | उसके बाद हम दोनों थोड़ी देर के लिए बैठ गए रूम में और एक दूसरे की आँखों में आँखे डाल कर एक दूसरे को निहारने लगे | मैं उसकी आँखों में अपने प्यार की झलक देख रहा था और वो मेरी आँखों में | कुछ देर ऐसे ही निहारने के बाद हम दोनों एक दूसरे के करीब आ गए और फिर एक दूसरे की बांहों में हो लिपट गए | फिर मैंने अपने होंठ से उसके होंठ को चूसने लगा और वो भी मेरा साथ देते हुए मेरे होंठ को चूसने लगी | मैं उसके होंठ को चूसते हुए उसके दूध भी दबा रहा था और वो मेरे होंठ को चूसते हुए मरे गालो को सहला रही थी |

हम दोनों ने एक दूसरे के होंठ को करीब दस मिनट तक चूसा | उसके बाद मैंने उसके टॉप को निकाल दिया और ब्रा के ऊपर से ही उसके दूध मसलने लगा तो उसके मुंह से आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | फिर मैंने उसके ब्रा के हुक को खोल दिया और उसे ऊपर से पूरी नंगी कर दिया | फिर मैं उसके एक दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा और दूसरे को दबाने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मेरे सिर के बाल को सहलाने लगी | उसके बाद मैं दूसरे दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा और पहले वाले को दबाने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | फिर मैंने उसके दोनों दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मजे लेने लगी | उसके बाद मैंने उसके जीन्स को भी उतार दिया और उसे बिस्तर पर लेटा दिया और फिर मैंने पेंटी भी उतार कर पूरी नंगी कर दिया | फिर मैं उसकी दोनों टांगो को फैला दिया और उसकी चूत पर अपनी जीभ से सहलाते हुए चाटने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | मैं उसकी चूत को चाटते हुए उसके चूत के दाने को भी होंठ से दबा कर चूस रहा था और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मेरे मुंह को अपनी चूत पर दबाने लगी |

मैंने उसकी चूत को पंद्रह मिनट तक चूसा | फिर मैंने भी अपनी टी-शर्ट को उतार दिया और अपने जीन्स को उतार दिया | अब मैं उसके सामने बस एक फ्रेंची अंडरवियर में था | फिर उसने मेरी अंडरवियर को भी उतार दिया और मुझे भी नंगा कर दी | उसके बाद वो मेरे लंड को अपने हाँथ में ले कर हिलाने लगी और फिर मेरे लंड पर अपनी जीभ फेरते हुए चाटने लगी तो मेरे मुंह से भी आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की सिस्कारियां निकलने लगी | वो मेरे लंड को एक आइसक्रीम की तरह चाट रही थी और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके बालो को सहला रहा था | फिर उसने गप्प से मेरे लंड को अपने मुंह में ली और चूसने लगी तो मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके दूध को दबाने लगा | वो मेरे लंड को जोर जोर से ऊपर नीचे करते हुए चूसने लगी और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके मुंह को चोदने लगा | फिर उसने मेरे लंड के नीचे के दो अनमोल रत्न को अपने मुंह में ले कर चूसने लगी और लुंड को ऊपर करते हुए हिलाने लगी |

फिर मैंने अपने लंड को उसकी चूत में पेल दिया और चोदे लगा धीरे धीरे शॉट मारते हुए और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | कुछ देर के बाद मैंने अपनी चुदाई की रफ़्तार बढ़ा दिया और जोर जोर से चोदने लगा शॉट मारते हुए तो वो भी आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपनी कमर उठा उठा कर चुवाने लगी | फिर मैंने पोजीशन बदलते हुए उसके घोड़ी बना दिया और उसके पीछे जा कर अपने लंड को उसकी चूत में फंसा दिया और चोदने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपनी गांड आगे पीछे करते हुए चुदाई में साथ देने लगी | करीब आधे घंटे की चुदाई के बाद मैंने अपना वीर्य उसकी चूत में ही छोड़ दिया |

तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी | मैं आशा करता हूँ कि आप लोगो को मेरी कहानी जरुर अच्छी लगी होगी |


error: