जंगल में मंगल


नमस्कार दोस्तों कैसे हो आप लोग | आशा करता हूँ की आप लोग सभी ठीक होंगे और मस्ती में रोज सेक्सी कहानिया पढ़ते होंगे | दोस्तों मैं आप का अपना अमित सिन्हा | मैं रोज आप लोगो के लिए एक नयी कहानी लिखता हूँ | तो दोस्तों मैं आज आप के लिए एक नयी कहानी लेकर आया हूँ पढके आप सभी मस्त हो जायेंगे | इस कहानी में मैंने और मेरे कुछ दोस्तों ने अपनी-अपनी गर्लफ्रेंड को जंगल में चुदाई करने के बारे में बताया गया है |

तो चलिए दोस्तों मैं आप लोगो को सीधा कहानी की ओर ले चलता हूँ | जिससे की आप लोगो की झांटे फायर न हो |

तो दोस्तों ये बात उस समय की है जब मैं और मेरे दोस्त शहर के ही कॉलेज में पढ़ते थे | हम लोगो के घर से कॉलेज की दूरी कम से कम 10 किलोमीटर तक थी | हम लोग अपने कॉलेज बाइक और स्कूटी से जाया करते थे | कॉलेज जाते समय हम लोग रास्ते में खूब मस्ती किया करते थे | हम लोगो का अपने कॉलेज में बहुत जलवा था | हम लोगो का पूरा दस लोगो का ग्रुप था जिसमे 5 लडकिया और 5 लड़के थे | हम लोगो कॉलेज से लगाकर अपने शहर तक खूब मस्ती करते थे | हम लोगो के पास अपनी-अपनी गर्लफ्रेंड थी | जब भी हम लोगो को कॉलेज में छुट्टी मिलती थी | हम लोग कहीं शहर के बाहर जाते थे घूमने के लिए  बहुत मजा आता था |

एक दिन मैं और मेरे कुछ दोस्त कॉलेज के बाहर खड़े थे छुट्टी के बाद | वहां एक लड़की और लड़का कॉलेज की बिल्डिंग के साइड में होकर किस्सिंग सीन कर रहे थे | यह देख कर मैं और मेरे दोस्त खूब एन्जॉय कर रहे थे | उसमे से हम लोगो के साथ मेरी गर्लफ्रेंड थी और एक मेरे दोस्त की | जब उन लोगो ने हम लोगो के देखा तो वे लोग वहां से कहीं और चले गये | उन दोनों को यह सीन करते हुए अब हम लोग अपनी-अपनी गर्लफ्रेंड को चिढ़ा रहे थे | पर हम लोग उनसे मजाक कर रहे थे | हम लोगो के अब एग्जाम आने वाले थे और हम लोगो को अब एक्साम्स की तैयारी करनी थी | हम लोग अपने एग्जाम के तैयारी में लग गये | हम लोगो के बोर्ड एग्जाम थे इसलिए हम लोगो का सेण्टर किसी दुसरे कॉलेज में गया था | अब हम लोगो को कॉलेज द्वारा एग्जाम देने जाना था क्योकि एग्जाम सेण्टर बहुत दूर था | अगले दिन हम लोग कॉलेज की बस में बैठकर एग्जाम देने के लिए गये | हम लोगो ने उस कॉलेज में एंट्री करवाई और एग्जाम के लिए बैठ गये | हम लोगो ने अपना तीन घंटे का एग्जाम दिया और एग्जाम हाल से बाहर आ गये थे | | दोस्तों जब मैं और एक मेरा दोस्त बाहर आये तो हम लोग वहां उस कॉलेज की लडकिया देख रहे थे क्या लडकिया थी | हम लोग ज्यादातर वहां की लडकियो की कमर और उनके बूब्स को ताड़ रहे थे | कुछ देर के बाद मेरे बाकी दोस्त भी आ गये और हम लोग जाके अपनी कॉलेज की बस में बैठ गये जाके और वहाँ से चल दिए | बस में मेरे साथ मेरी गर्लफ्रेंड बैठी थी | रास्ते में मैंने उसके साथ सरारत करनी शुरू कर दी थी |  कहीं मैं उसके पेट में पिंच करता था तो कभी मैं उसके बूब्स दाब देता था | थोड़ी देर तक तो वो मुझे अपने नखरे दिखाती रही और फिर बाद में वो भी एन्जॉय करने लगी थी | मैं उसके बूब्स को धीरे-धीरे सहला रहा था और वो सीट पर बैठ कर मचल रही थी | उसको मैंने पूरी तरह ससे गरम कर दिया था | कुछ देर बाद हम लोग अपने शहर पहुँच गये थे | कॉलेज की बस हम लोगो को अपने-अपने घर उतार कर चली गयी थी | हम लोगो के बोर्ड के एक्साम तक़रीबन 1 महीने चले थे |  मैं अपनी गर्लफ्रेंड से रोज मजा लेता था ,मैं रोज बस में उसके बूब्स दबाके उसको गरम करता था | मैं उसे अब चोदना चाहता था | वो भी गरम थी क्योकि मैं उसके बस में उसके बूब्स दबा-दबा के उसको गरम कर दिया था | हम लोगो के एग्जाम अब ख़त्म हो चुके थे | क्योकि हम लोग के अब एग्जाम ख़त्म हो गये थे और अब हम लोगो का कॉलेज जाना बंद हो गया था और हम लोग अपने-अपने घर ही रहा करते थे | एक दिन मेरे दोस्त का फोन आया उसने कहीं बाहर जाने का टूर जाने का प्लान बनाया | हम लोग आपस में  बैठ कर डिसिशन लेते रहे और फिर कहीं जाके नैनीताल घूमने का फिक्स किया | हम लोगो ने अपने-अपने ग्घर ससे परमिशन ले ली और काल सुबह हम ल्लोगो को निकलना था | हम लोगो ने एक छोटी टूरिस्टर बस बुक कर ली | हम लोग अपने-अपने घर से नैनीताल के लिए निकल चुके थे | बस में हम लोगो ने खूब मस्ती की | जब भी हम लोगो को रास्ते  में कोई अच्छी जगह लगती थी हम लोग वहां रुक के उस जगह को टहलते थे और वहां की फोटो क्लिक करते थे | हम लोगो को चलते-चलते रात हो गयी थी और अब हम लोगो को बहुत तेज भूंक लागी थी | हम लोगो ने द्रिवीर से कहा की भईया कोई अच्छा सा रेस्टोरेंट देख कर रोक द्देना हम लोगो को खाना ,खाना है | थोड़ी देर बाद उसने एक रेस्टोरेंट पर बस को रोक दिया | हम लोग बस से उतरे , अपने हाथ पैर धुले और खाना खाना स्टार्ट किया | हम लोगो ने अपना खाना आधे घंटे में खाके व्वाहन से निकल लिए थे | पूरी रात चलने के बाद में हम लोग अब नैनीताल पहुँच गये थे |वहां हम लोग एक अच्छे से होटल में रुके | पूरा दिन हम लोगो ने आराम किया और जब शाम के 4 बजे तो हम लोग उठे फ्रेश हुए और घूमने के लिए निकल गये | हम टहलते –टहलते एक जंगल में निकल गये | वहां हम जंगल में खूब मस्ती कर रहे थे |

मैं और मेरी गर्लफ्रेंड सबसे पीछे थे और हमारे दोस्त लोग आगे निकल  गये थे |  हम लोग मस्ती करते हुए पीछे चल रहे थे | थोड़ी देर चलने के बाद हम लोगो को एक तालाब दिखाई पड़ा | मैंने और मेरी गर्लफ्रेंड ने उसमे बाथ लेने की सोंची और हम लोगो ने अपने-अपने कपडे निकाले और तालाब में घूस गये | हम लोग एक दुसरे पे पानी डाल रहे थे |  मेरी गर्लफ्रेंड एक दम बिकनी-ब्रा पहन रख्खी थी और वह उसमे एक दम पटाका लग रही थी | उसको द्देख कर मैं अब अपने आप को रोक नही पा रहा था | मैं धीरे-धीरे उसकी तरफ बढ़ा , मैंने उसको अपने बाहों में जकड लिया और उसके गुलाबी होंठो को अपने मुह में रख कर चूसने लगा और वह भी थोड़ी देर बाद मेरा साथ देते हुए मेरे होंठो को चूसने लगी थी | थोड़ी ददर तक मैंने उसके होंठ चूसे और फिर उसके बूब्स अपने हाथ में लेके दबा रहा था | अब वो गरम हो चुकी थी और उसके मुह से धीरे-धीरे अपने मुह से आह आहा आहा आहा आहा आहा आह आहा आहा आहा आह आह आह आह आह आहा आहा अह आह आह आह आहा आहा आहा अह आह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह ओह्ह ओह्ह की सिस्कारिया निकलना शुरू कर दिया था तभी अचानक से मेरे दोस्तों की आवाज सुनाई पड़ी वो हम लोगो को दूंढ रहे थे |  हम लोग तालाब से बाहर निकले और  तब तक हमारे दोस्त हमें ढूँढ़ते हुए पास आ गये थे और फिर हम लोग वहां से साथ में निकल लिए | जंगल टहलते-टहलते हम लोगो को अब रात हो गई थी | तभी मेरे एक दोस्त ने कहा की हम लोग अब होटल नही जायेंगे और यहीं टेंट लगाकर आराम करेंगे और कल सुभह और टहल कर वापस चलेंगे | हम लोगो ने पाना टेंट लगा लिया और खाना खा के लेट गये | मेरी गर्लफ्रेंड मेरे ही साथ में लेती थी |  थोड़ी देर तक हम लोगो ने बाते की और जब सब लोग सो गये तब मैंने अपनी गर्लफ्रेंड के बूब्स में हाथ लगाकर सहला रहा था | मेरी गर्लफ्रेंड थकी थी और उसे नींद आ रही थी | मैंने उसके सब कपडे निकाल दिए और अपने कपडे भी निकाल दिए | मैं उसके बूब्स को अपने मुह में रख कर पी रहा था और अपने राईट हैण्ड से उसकी चूत को सहला रहा था | वो भी अब धीरे-धीरे मचल रही थी और अपने मुह ससे आह आह आहा आहा अह आहा आहा अह आहा आहा अह औंह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्होह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह इह्ह की सिसकिया ले रही थी |  थोड़ी देर तक मैंने उसे गरम किया और जब वो पूरी तरह ससे गरम हो चुकी थी तब मैंने उसकी दोनों पैरो को फैला कर अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया और धीरे-धीरे करके उसकी चूत में धख्खा देकर  चोदने लगा और वो अपने मुह से आह आह आहा अह आह आहा आहा अह आहा उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह की सिस्कारिया निकाल रही थी | थोड़ी देर तक मैंने उसको चोदा और फिर बाद में मैं जब मैं झड़ने वाला था तब मैंने अपना लंड निकाल कर उसकी चूत के ऊपर झाड दिया |

तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी इस तरह से मैंने अपनी गर्लफ्रेंड को जंगल में चोदा | आशा करता हूँ की आप लोगो को पसंद आयेगी |


error: