एक्स-गर्लफ्रेंड के साथ जोरदार चुदाई – 1


हेल्लो दोस्तों, कैसे हैं आप लोग? आशा करता हूँ आप लोग भी मस्त होंगे और अपने लंड और चूत का बराबर ध्यान रखते होंगे | मेरा नाम राघव है और मैं लखनऊ का रहने वाला हूँ | मेरा कद 5 फुट और 6 इंच है और रंग गोरा है | मेरी बॉडी फिट है और मैं एक औसत हाइट वाला लेकिन स्मार्ट लड़का हूँ | मेरी उम्र 22 साल है | चलिए अब मैं कहानी पर आता हूँ |
मेरी एक गर्लफ्रेंड थी जिसका नाम फातिमा है और वो मेरे कॉलेज में ही पढ़ती थी | मैं उसे बहुत प्यार करता था और वो भी बहुत करती थी लेकिन जब हमारा कॉलेज समाप्त हुआ तो वो कहने लगी की घर पर बात नही हो पाएगी और ये कह के उसने मुझे छोड़ दिया | मैंने बहुत कोशिश की की वो मुझे नही छोड़े लेकिन उसने मुझे हर जगह ब्लाक कर दिया और मुझे छोड़ दिया | मैं उसको बहुत मिस करता था और रोता भी था कई बार लेकिन उसको कोई फर्क नही पड़ा | खैर, ये थी 6 महीने पहले की बात | अभी कुछ दिन पहले अचानक से मेरे पास एक नंबर से 5 मिस्ड कॉल आयीं | जब मैंने कालबैक किआ तो पता चला ये फातिमा का नंबर था | वो मेरे पास वापस आना चाह रही थी | मैंने बोला की मैं बाद में बात करता हूँ | फिर मैंने सोचा की अगर मैं उसके पास वापस गया तो कहीं फिर से मुझे छोड़ कर न चली जाये | एक बार इतना रोने के बाद दोबारा रोने की हिम्मत नही थी मुझमे | सो मैंने सोचा की क्यूँ न इस बात का फायदा उठाया जाये | मैंने उसको काल किया और बोला की मैं एक ही शर्त पर तुम्हारे पास वापस आऊंगा और वो शर्त ये है की तुम मेरे साथ एक रात गुजारो | वो रोने लगी और बोली की नही, ये नही हो सकता | मैंने बोला कोई बात नही | ये कह के मैंने काल एंड कर दी | कुछ दिन बाद उसकी फिर से कॉल आई और वो बोली की पक्का न ऐसा करने के बाद तुम मेरे हो जाओगे | मैंने कहा हाँ | फिर हमने प्लान बनाया की हम किस तारीख में मिलेंगे |
प्लान के मुताबिक मैंने उसको पिक किआ और मेरे दोस्त के फ्लैट पर ले गया | वहां कोई और नही रहता और पुरे फ्लैट में बस मैं और मेरी गर्लफ्रेंड फातिमा थी | फ्लैट में घुसने के बाद मैंने दरवाजा बंद कर दिया | फिर हम दोनों बैठे और बातें करने लगे | धीरे धीरे मेरा हाथ उसके हाथों पर गया और हम दोनों करीब आ गये | फिर हमने किस करना शुरू किआ धीरे धीरे मेरे हाथ उसके दूध पर जाने लगे | मैंने उसके दूध दबाना शुरू कर दिया | वो भी आह आह उह आह करना शुरू कर दिया | मैंने अब उसकी गर्दन पर किस करना शुरुर कर दिया | वो भी अब गर्म होने लगी थी | मैंने अब उसका टॉप उतार दिया और बसकी ब्रा के ऊपर से उसके दूध दबा रहा था | क्या मस्त दूध थे उसके.. बड़े बड़े.. मस्त | मुझसे रहा नही गया और मैं ब्रा के ऊपर से ही चूसने लगा | वो भी आह उह्ह उ हह आह्ह करने लगी | फिर मैंने उसकी ब्रा उतारी | वाह.. क्या लाजवाब दूध थे उसके.. बड़े बड़े.. गुलाबी निप्पल.. एक दम सॉफ्ट.. | मैंने प्यार से उसके निप्पल को अपने होठों से लगाया | वो उछल पड़ी.. बोली आराम से करो.. तुम्हारी ही हूँ आज मैं | मैंने कहा ठीक है डार्लिंग | फिर मैंने उसको लिटाया और अपनी टीशर्ट भी उतर दी | फिर मैंने उसके ऊपर आ गया और उसके निप्पल पर किस करने लगा | वो भी पूरा एन्जॉय कर रही थी | उसके पिंक निप्पल को लग रहा था कभी उसने खुद भी नही मसला होगा | दोस्तों बता नही सकता की क्या नजारा था वो.. एकदम गोर दूध.. बड़े बड़े.. बहुत ही प्यारे.. | मैं उन्हें चुस्त जा रहा था और वो मस्ती में ऊह्ह उ उह्ह उह्ह उआ अ अ अ आआ अ अ आःह ह ह ह हाहा आहा हाहा अहह कर रही थी | फिर मैंने उसको पीछे पलट दिया और उसकी पीठ को चूमने लगा | वो भी मदमस्त हो गयी और उह आहा आह आ आ अहह करने लगी | धीरे धीरे मैंने उसकी पैंट उतार दी और उसके चूतडों को पेंटी के ऊपर से दबाने लगा | क्या मस्त चुतड थे उसके | एकदम गोरे गोरे | मुझे कंट्रोल नही हुआ और मैंने उसकी पेंटी भी निकल दी | उसके चूतडों को दबाते हुए मैंने उसे वापस पलट दिया और इस तरह मुझे उसकी चूत के दर्शन हुए | एक दम लाजवाब चूत थी उसकी.. गुलाब की पंखुड़ियों जैसी.. गुलाबी सी.. चिकनी.. बाल का एक भी रेशा नही था.. देख कर ही मजा आ आ गया मुझे | एक बहुत प्यारी सी खुशबु आ रही थी उसकी चूत से.. मन कर रहा था की देखता ही रहूँ | मैं ऊपर आ गया और फिर से उसे किस करने लगा | वो भी पूरी गर्म हो चुकी थी अब तक | किस करते करते धीरे धीरे मैं वापस नीच एजाने लगा और इस बार बिना देर किये मैंने अपनी जीभ उसकी चूत से लगा दी | वो चिहुंक उठी | बोली बाबू आराम से | मैंने बोला ठीक है | फिर मैंने अपनी जीभ उसकी प्यारी सी चूत में घुसा दी | पहले मुझे डाउट था लेकिन अब कन्फर्म हो गया था की उसकी चूत की चुदाई कभी नही हुई थी | मैं उसकी चूत चाट रहा था और वो मस्ती में ऊउह उ हह ऊउह आह आ अ आह्ह्ह्ह आहा उह्ह.. आ ह आह.. आह्ह्ह. उह्ह.. कर रही थी | मुझे भी मजा आ रहा था | मस्त स्वाद था उस्की चूत का | थोड़ी देर बाद वो बोली की मैं झड़ने वाली हूँ | मैंने बोला की ठीक है मेरे मुंह में ही दे दो अपना माल | उसने अपना माल मेरे मुंह में दे दिया | मुझे भी अच्छा लगा उसके माल का स्वाद |
अब बारी उसकी थी | मैंने अपने सरे कपड़े निकल दिए और लेट गया | अब वो धीरे धीरे मेरे ऊपर आने लगी और मेरे सीने पर किस करने लगी | मुझे अच्छा लग रहा था | उसकी गर्म गर्म सासें मेरे सीने में लग रही थीं | अब वो धीरे धीरे अंडरवियर के ऊपर से मेरा लंड सहलाने लगी और मेरे शारीर पर किस करने लगी | जैसे ही सुके कोमल हाथों का स्पर्श मेरे लंड पर लगा, वो तुरंत खड़ा हो गया | वो बोली “इसको क्या हो गया अचानक से “ | मैंने कहा “तुम्हारा हाथ है ही इतना सॉफ्ट की उसका टच मिलते ही मेरा खड़ा हो गया” | वो बोली “अच्छा, देखती हूँ” | मैंने कहा “ ठीक है, अंडरवियर निकल कर देख लो” | वो बोली “ठीक है” | अब वो धीरे धीरे नीचे जाने लगी और उसने मेरा अंडरवियर निकाल दिया | जैसे ही उसने मेरा लंड देखा, वो चौंक गयी | वो बोली “इतना बड़ा” | मैंने कहा “हाँ, क्यूँ पसंद नही आया क्या?” | वो बोली “ऐसा नही है | मुझे तो ये बहुत पसंद है” | मैंने कहा “फिर देर क्यूँ कर रही हो? जल्दी से इसे हाथ में लो और चूसने स्टार्ट कर दो“ | वो बोली “ठीक है” | फिर उसने मेरा लंड हाथ में लिया और सहलाने लगी | मुझे एक अजीब सा एहसास हो रहा था | थोड़ी गुदगुदी भी लग रही थी लेकिन साथ ही मजा भी आ रहा था | मैंने कहा “बेबी अब देर मत करो और जल्दी से इसको मुंह में ले लो” | वो बोली “हाँ बेबी, बस लेने ही जा रही” | फिर वो अपना मुंह मेरे लंड के पास ले गयी और अपनी जीभ मेरे लंड पर लगाने लगी | मुझे एक अजीब से ख़ुशी हुई उस वक़्त | असल में ज़िन्दगी में पहली बार मेरा लंड किसी लड़की ने मुंह में लिया था | मुझे बहुत अच्छा लगा | फिर वो मेरे लंड को चूसने लगी | मुझे बहुत अच्छा लग रहा था | मैं “उम्म्म बेबी पूरा लो, गुड बेबी.. मजा आ रहा है.. पूरा लो.. “ कहने लगा | वो पहले तो नार्मल चूस रही थी लेकिन थोड़ी देर बाद किसी एक्सपर्ट की तरह पूरा लंड मुंह में लेने लगी और लोलीपोप की तरह चूसने लगी | दोस्तों, मैं बस बता नही सकता की क्या आनंद था उस वक़्त | एक दम लग रहा था की जैसे जन्नत में हूँ मैं | इसी तरह वो मजे से मेरा लंड चुसे जा रही थी और मई चुसवाए जा रहा था | मैंने कहा “बेबी, ये बताओ की माल तुम्हारे मुंह में दूं या बाहर निकल दूं?” | वो बोली “बेबी, मुझे आपका माल पीना है | पिला दो मुझे और तृप्त कर दो” | मैंने कहा “लो बेबी, मेरा निकलने वाला है | लो पि जाओ सारा | एक बूँद भी मत छोड़ना” | ऐसा कहते कहते मैंने उसके मुंह में ही आह्ह्हा हा अहह कहते कहते अपना माल निकल दिया | वो भी पुरे मन से मेरा माल पीने लगी | मुझे बहुत मजा आया |
दोस्तों इसके बाद हम लोगों ने जोरदार चुदाई की | इस चीज की कहानी मैं आप लोगों को अगले भाग में सुनाऊंगा | आशा है की आप लोगों को ये कहानी पसंद आई होगी |


error: