दोस्त की बंगाली चाची की मचलती चूत को शांत किया


pyasi chut

हेल्लो दोस्तों आप सभी को अजय का लंड वाला नमस्कार तो मैं आज आप लोगो के लिए एक बार फिर से अपनी कहानी को लेकर आप सभी दोस्तों की सेवा में हाज़िर हूँ | दोस्तों मैं जो आज कहानी आप लोगो के सामने पेश करने जा रहा हूँ इस कहानी को पढ़कर आप लोगो के लंड में आग लग जाएगी और आप सभी लोग इस आग को शांत करने के लिए मुठ मार कर काम चलाओगे | दोस्तों तो मैं अपने कहानी को शुरू करने से पहले अपने बारे में बता देता हूँ |

जैसे की मैं अपना नाम बता ही चूका हूँ और मैं रहने वाला एक गाँव का हूँ | मैं अपने गाँव का नाम आप लोगो को नही बताऊंगा | मैं दिखने में बहुत गोरा हूँ बिलकुल दूध की तरह और मेरी उम्र 24 साल है | दोस्तों मैं दिखने में मस्त स्मार्ट हूँ और मेरा जिस्म काफी हट्टा कट्टा है जिससे में दिखने में किसी पहलवान से कम नही लगता हूँ | मेरी उम्र तो 24 साल ही है पर अपने शरीर की वजह से 28 साल का गबरू जवान आदमी लगता हूँ | मैं अब अपनी बकचोदी को ख़त्म करता हूँ और अपनी कहानी को शुरू करता हूँ |

loading...

दोस्तों ये कहानी तब की है जब मैं अपनी पढाई करके शहर से अपने गाँव आया हुआ था | मेरे गाँव में मेरा एक बहुत पुराना दोस्त रहता है जिसका नाम गनेश है और मैं उसे प्यार से गना बोलता हूँ | वो मेरा बहुत पुराना दोस्त है और मैं उसके घर भी जाया करता था और पूरा पूरा दिन उसके घर ही रहा करता था |

इस बार जब मैं उसके घर उससे मिलने गया तो मुझे एक मस्त माल नज़र आया | दोस्तों उस टाइम मुझे अपनी आँखों पर यकीन नही हुआ की इतना मस्त माल इसके घर में कहा से आ गया | मैं उसको 2 -3 मिनट तक टकटकी बांध कर देखता रहा और वो मेरी आँखों में आंखे डाल कर देखती रही | तब मैं अपने दोस्त गना से कहा ये कौन है यार ?

गना – मेरी चाची बंगाल की है |

मैं – मस्त लगती है |

वो मुझसे बोला की यार मेरे चाचा जी इनको बंगाल से शादी करके लाये हैं | फिर कुछ ही देर में वो चाय बना कर मेरे और गना के लिए लाई और जब वो मुझे चाय देने के लिए झुकी तो मेरी आंखे अपने आप ही उनकी चुचियों पर पहुच गयी | क्या मस्त चूचियां थी ? बिलकुल दूध की तरह गोरी |

दोस्तों मैं अपनी कहानी को आगे बढ़ाने से पहले उनके बारे में बता देता हूँ | उनका नाम पायल था और उनकी उम्र करीब 24 – 25 साल ही होगी | वो दिखने में बहुत गोरी थी और मस्त सेक्सी फिगर जिसको देखकर किसी भी आदमी का इमान डगमगा जाये | दोस्तों उनके फिगर की आप तुलना साऊथ की हिरोइन काजल अग्रवाल से कर लो ठीक वैसा ही था | मैं उनको उस दिन देखकर पागल हो चूका था और मेरे मन में उनकी जवानी के मज़े लेने के ख्याल आ रहे थे पर मुझे नही पता था की वो भी मुझ पर पहली नज़र में फ़िदा हो गयी है |

अब मैं उसके घर रोज ही जाने लगा और उनको देखकर अन्हे भरने लग | दोस्तों मैं उनके घर रोज ही जाने लगा था और गना के साथ बैठ कर बाते करता रहता था | एक दिन की बात है जब मैं गना के घर गया और उस दिन उसके घर पर कोई नही था सिर्फ उसकी चाची ही थी | उस दिन मैंने सोच लिया की मैं उनको अपने दिल की बात बता देता हूँ पर दोस्तों मुझसे ज्यादा आग तो उधर लगी थी |

वो मुझे अकेले देखकर मेरे पास आई और बिना किसी शर्म के मुझसे बोली की मैं तुम्हे पसंद करती हूँ और मैं बहुत दिनों से तडफ रही हूँ | तुम आज मेरी मचलती चूत को शांत कर दो | मुझे लंड के दर्शन किये 1 महीने से ज्यादा हो रहा है | यार बुझा दो आज मेरी चूत की खुजली को ? यार मैं इसके लिए अभी तैयार नही हूँ | वो कोई बात नही मैं तैयार कर दूंगी |

मैं बोला पर आप के घर का कोई आ गया तो क्या होगा ? वो मुझसे बोली कुछ नही होगा मैं देख लुंगी | दोस्तों मुझे तो जैसे कोई अनमोल चीज मिल गयी है ऐसे मैं उनसे लिपट गया और उन्हें चूमने लगा | मैं उनको अपनी बाँहों में उठा कर उनके बेडरूम में ले गया और उनको उनके बिस्तर पर लेटा दिया | वो मुझे लिपटी हुई थी और बोल रही थी आज यार मेरी चूत को आग को बुझा दो | मैंने जब तुझे पहली बार देखा था मुझे तू तब ही बहुत पसंद आया था | मैं उनके मुंह से ऐसी बाते सुनकर जोश में आ रहा था |

फिर मैंने उनको कस के पकड लिया और चूमने लगा | मैं उनको चूमने के साथ उनकी मस्त चिकनी गांड को दबाने लगा | मैं उस दिन उनकी मस्त चिकनी गांड को दबा रहा था तो मुझे ऐसा लग रहा था की जैसे कोई मखमल की चीज को दबा रहा हूँ | मैं उनको ऐसे ही कुछ देर तक चूमता चाटता रहा | फिर मैंने उनको पकड लिया और उनके कपडे निकाल दिए जिससे वो मेरे सामने ब्रा और पैंटी थी | मैं उनको ब्रा और पैंटी में देखकर अन्हे भरते हुए उनको देख रहा था और मज़े ले रहा था |

दोस्तों मैं उनको ऐसे ही मज़े लेते हुए उनकी रसीली होठो पर अपनी होठो को रख कर चूसने लगा | मैं उनकी होठो को और वो मेरी होठो को ऐसे ही 5 मिनट तक चूसती रही | फिर मैंने उनकी ब्रा और पैंटी दोनों को एक साथ ही खोल दिया | क्या मस्त चूचियां थी ? दोस्तों उनकी नाभि बहुत गहरी थी और उनकी नाभि से नीचे धीरे धीरे बढ़ता रहा जिससे मैं उनकी गुलाबी चूत तक पहुच गया और क्या मस्त गुलाबी चूत थी | दोस्तों बिलकुल किसी पाव रोती की तरह फूली हुई चूत जिसको देखकर मेरा लंड झटके मारने लगा |

मैं उनके पुरे जिस्म को ऐसे ही कुछ देर तक देखता रहा | फिर वो मुझसे बोली की तू भी अपने कपडे निकाल दे और मैंने भी अपने कपड़े निकाल दिए | दोस्तों मेरा लंड पहले ही खड़ा हो चूका था और जब मैंने अपने कपडे निकाल दिए तो मेरा लंड एकदम लोहे की तरह खड़ा था और हिल रहा था | वो मेरे लम्बे और मोटे लंड को देखकर बोली हाय कितना बड़ा लंड है | मैंने इससे पहले इतना बड़ा लंड नही देखा और मेरे पति का लंड तो इससे बहुत छोटा है |

वो ये कहती हुई मेरे लंड को अपने हाथ में पकड लिए और अन्हे भरती हुई मेरे लंड को हाथ में पकड लिया | दोस्तों जब उन्होंने मेरे लंड को हाथ में पकड लिया तो मेरा लंड उनके हाथ की गर्मी को पाकर झटके मारने लगा और वो झटके मारते हुए लंड को मुंह में रख कर चूसने लगी | वो मेरे लंड को मुंह में रख कर जोर जोर से अन्दर बाहर करती हुई चूसने लगी | दोस्तों वो मेरे लंड को मुंह में रख कर ऐसे ही 5 मिनट तक चूसती रही | जब वो मेरे लंड को मुंह में रख कर चूस रही थी तो मुझे ऐसा लग रहा था की मेरा लंड अपना पानी छोड़ देगा |

फिर वो मेरे लंड को अपने मुंह से निकाल कर मुझे बेड पर लेटा दिया और मेरे लंड पर अपनी चूत के मुंह को टिका दिया | वो मेरे लंड पर अपनी चूत को रखकर बैठ गयी और धीरे धीरे नीचे दबाने लगी जिससे मेरा लम्बा और मोटा लंड उनकी चूत में समाता गया और कुछ ही देर में मेरा लंड उनकी चूत में आधे से ज्यादा जा चूका था | वो मेरे आधे से ज्यादा लंड को चूत में लेकर चुदने लगी साथ में आह उई औच माई याह की सेक्सी आवाजे करती हुई चुदने लगी |

वो मेरे लंड पर बैठ कर उछल उछल कर चुदने लगी थी | दोस्तों वो मेरे लंड पर उठा पटक करती हुई चुद रही थी और उनके उठा पटक करने के साथ उनके मुंह से आह उह औच की आवाजे आ रही थी |

वो जितने जोर से मेरे लंड की सवारी कर रही थी | उनकी बड़ी और चिकनी चूचियां उनते जोर से ही उछल कूद रही थी | मैं उनकी उछलती कूदती चुचियों को देखकर मज़े ले रहा था और वो मेरे लंड की ऐसे ही जोरदार की सवारी पुरे 10 मिनट तक करती रही जिससे उनकी चूत ने अपना पानी छोड़ दिया था और वो झड़ चुकी थी | जब वो झड़ गयी तो मेरे लंड के ऊपर से उतर गयी |

दोस्तों मेरा लंड अभी भी शेर की तरह दहाड़ रहा और कह रहा था की मैं अभी तुझे और मज़ा दूंगा पर वो अब मेरे लंड को अपनी चूत में लेने की हालत में नही थी तो मैंने उनकी चुचियों को मुंह में रख लिया और 5 मिनट तक चूसता रहा | फिर मैंने उनको घोड़ी बना दिया और उनकी गांड के मुंह पर थूक लगाया और उनकी गांड में लंड को घुसा दिया |

दोस्तों मेरा लंड जैसे ही उनकी गांड में घुसा तो उनकी गांड से खून निकलने लगा जिससे मुझे ऐसा लग रहा था की वो इससे पहले कभी अपनी गांड में लंड को नही लिया था | मैं जब उनकी गांड में धक्के मारने लगा तो मुझे बहुत मज़ा आ रहा था जिससे मैं उनकी कमर को पकड कर जोर के धक्के मार रहा था और वो मजे लेती हुई गांड मरवा रही थी | मैं उनकी गांड में ऐसे ही 5 मिनट तक धक्के मारता रहा जिससे मुझे ऐसा लगा की अब मेरे लंड से माल निकलने वाला है |

तब मैंने उनको घुटनों के बल बैठा दिया और मुंह में लंड को डाल कर अपना सारा माल निकाल दिया | वो मेरे लंड को तब तक चूसती रही जब तब मेरे लंड की एक एक बूंद पी नही ली | दोस्तों उस दिन मुझे उनकी चुदाई में बहुत मज़ा आया था और वो भी बहुत चुदक्कड किस्म की थी इसलिए मेरे साथ इतनी देर तक चुदती रही थी | उस चुदाई के बाद वो अब मुझसे अक्सर चुदती है और अब मेरा पूरा लंड अपनी चूत में ले लिया करती है |

दोस्तों ये थी मेरी कहानी मैं उम्मीद करती हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी | धन्यवाद…………