कॉलेज वाली मैडम की अन्तर्वासना शांत की


desi sex stories, antarvasna

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम नेहाल है और मैं रीवा का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 25 साल है और मैं अभी प्राइवेट जॉब करता हूँ | मैं दिखने में सांवला हूँ लेकिन दिखता समार्ट हूँ ऐसा मुझे हर कोई कहता है | मेरी हाईट 5 फुट 9 इंच है और मेरे लंड का साइज़ 7 इंच लम्बा और 2.5 इंच मोटा है | दोस्तों आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी पेश करने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और आखिरी भी | क्यूंकि मैंने सोच रखा था कि जब मैं किसी 15वी को चोदुंगा तभी मैं अपनी कहानी लिखूंगा और ऐसा हो चूका है इसलिए मैंने कहानी लिखना जरुरी समझा | मैं बहुत चुदास लौंडा हूँ और हर वक़्त मेरे दिमाग में बस चूत ही घूमती रहती है | मेरे घर में वैसे तो मैं और मेरी मम्मी ही रहते हैं | दोस्तों आज जो मैं अपनी कहानी में बताने वाला हूँ कुछ लोगो को शायद वो झूटी लगे पर यकीन मानिए ये एक दम सच्ची घटना है | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय नहीं लूँगा और अपनी कहानी शुरू करता हूँ | ये घटना पिछले महीने की है | रोज की तरह मैं फेसबुक चलाता हूँ और मेरा टाइमपास इसी से ज्यादातर होता है |

मेरी एक गर्लफ्रेंड है जिसका नाम श्री है पर उसने मुझे कभी चुदाई करने का मौका नहीं दिया तो मैं उसके अलावा किसी को भी पटा कर चुदाई कर के अपने लंड को सूखे नहीं रहने देता | मेरी आदत है पोस्ट शेयर करते हुए जो फ्रेंड सजेशन आते हैं उसमे में हर एक लड़की या भाभियाँ को फ्रेंड रिक्वेस्ट सेंड करता हूँ | ऐसे ही मैं एक दिन फ्रेंड्स सजेशन देख रहा था कि मेरी नजर एक भाभी पर पड़ी | वो दिखने में बहुत रईस लग रही थी और सुन्दर भी थी | उम्र उसने मुझे कभी बताई नहीं | उसका नाम सुमन सिंह था और वो हिस्सार हरियाणा की रहने वाली थी | मैंने सोचा उसे फ्रेंड रिक्वेस्ट सेंड कर दिया पर हो नहीं रही थी तो मैंने उसे गुड मोर्निंग का मेसेज भेज दिया | फिर मैंने नेट बंद दिया और घर का कुछ काम करने लगा | जब मैं काम कर के फुर्सत हुआ तब मैंने फिर से फेसबुक ऑन किया तो उसी का मेसेज आया था मेरे पास गुड मोर्निंग | फिर मैंने उसे हाय किया तो उसने भी हाय किया |

मैं – हाय !

सुमन – हैल्लो !

मैं – कहाँ से हो ?

सुमन – हरियाणा से हूँ और तुम कहा से हो ?

मैं – मैं कटनी मध्यप्रदेश से हूँ |

सुमन – अच्छा |

मैंने – हाँ और पुछा आप क्या करते हो ?

सुमन – मैं हाउसवाइफ हूँ और फिर उसने पुछा तुम क्या करते हो ?

मैं – आप को करवाना क्या है ?

सुमन – क्या मतलब ?

मैं – मतलब मैं एम पी ऑनलाइन का काम करता हूँ |

सुमन – ओके !

मैं – मैडम आपको फ्रेंड रिक्वेस्ट सेंड नहीं हो रही है तो आप भेज सकते हो क्या ?

सुमन – क्यूँ ?

मैं – आपसे दोस्ती करना है |

सुमन – क्यूँ तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है क्या ?

मैं – नहीं है जी अभी तक सिंगल ही हूँ |

सुमन – तो मुझे गर्लफ्रेंड बनाओगे क्या ?

मैं – ( मैं मन ही मन सोचने लगा कि ये तो डायरेक्ट बोल रही है कुछ तो लोचा है ) नहीं जी ऐसी बात नहीं है | काश मेरी ऐसी किस्मत होती कि आप मेरी गर्लफ्रेंड बन जाओ |

सुमन – चलो बाय !

मैं – कहाँ जा रहे हो ?

सुमन – घर का कुछ काम करने |

मैं – अच्छा ठीक है जी बाय बाय !

उस समय बस इतनी ही बात हुई थी | मैं सोचने लगा कि इसको अपने झांसे में उतारा कैसे जाए | उस दिन सन्डे का दिन था तो मुझे कहीं जाना नहीं था | शाम को मेरे दोस्त प्रदीप का फ़ोन आया और उसने मुझसे कहा कि भाई दारु पिएगा ? मैंने कहा हाँ यार भाई पियूँगा |  उसने कहा ठीक है चल फिर मिल मुझे मुन्नू की दुकान के पास | मैंने कहा ठीक है | हम लोग करीब 7 बजे दारू पीने बैठ गए | पीते पीते हम दोनों को 8 बज चुके थे और तभी मेरे फेसबुक में मेसेज आया | ये मेसेज उसी सुमन का था |

सुमन – हाय !

मैं – क्या कर रहे हो जी ?

सुमन – कुछ नहीं तुम बताओ |

मैं – बस तुम्हारे मेसेज का वेट कर रहा था डिअर |

सुमन – क्यूँ ?

मैं – पता नहीं जब से तुमसे बात हुई तब से मेरा मन तुम पर ही आ कर अटक गया |

सुमन – अच्छा |

मैं – हाँ यार ! अच्छा ये बताओ तुमने डिनर किया ?

सुमन – नहीं यार अभी कहाँ ? अभी तो बनाना है | और तुमने किआ डिनर ?

मैं – नहीं यार अभी तो मैं बाहर ही हूँ | अपने दोस्त के साथ बैठा हुआ हूँ |

उसने मुझसे एक घंटे करीब बात की और फिर अचानक ऑफलाइन हो गई | मैं उसे गुड नाईट भी नहीं बोल पाया | अगली सुबह करीब 4 बजे मेरी नींद खुली तो मैंने फेसबुक चालू किया | तभी उसका मेसेज आया गुड मोर्निंग डिअर |

मैं – गुड मोर्निंग स्वीटहार्ट !

सुमन – क्या बात है आज बड़े ही मूड में लग रहे हो ?

मैं – हम तो हमेशा ही मूड में रहते हैं यार बस कोई मूड बनाने वाली नहीं मिली |

सुमन – अच्छा फ़्लर्ट कर रहे हो मेरे साथ |

मैं – नहीं यार मैं तो बस बता रहा हूँ | अच्छा तुम्हारे पति क्या करते हैं और तुम्हारे कितने बच्चे हैं ?

सुमन – मेरे पति जॉब करते हैं और मेरे दो बच्चे हैं |

मैं – अच्छा |

सुमन – तुम्हारे घर में कौन कौन है ?

मैं – मैं और मेरी मम्मी |

सुमन – अच्छा | वैसे एक बात कहूँ ?

मैं – हाँ बोलिए |

सुमन – तुम बहुत हेंडसम लगते हो |

मैं – क्या करे जब तुम्हे इतना खूबसूरत बनाया है तो भगवन ने मुझे भी थोड़ी सूरत दी है |

सुमन – हम्म

मैं – वैसे मैं एक बात कहूँ ?

सुमन – हाँ बोलो डिअर |

मैं – अगर तुम मेरी गर्लफ्रेंड होती तो मैं तुम्हे हद से ज्यादा प्यार देता |

सुमन – उसकी कोई जरुरत नहीं मेरे पति हैं उसके लिए |

मैं – मैं तुम्हारे पति से भी ज्यादा प्यार करता |

सुमन – वो कैसे ?

मैं – ( मैंने सोचा कि जब ये डायरेक्ट मुझे बोल सकती है तो मैं भी एक बार बोल कर देखता हूँ कि इसका क्या रिएक्शन होता है ) तुम्हे संतुष्ट कर के |

सुमन – करो |

मैं – अच्छा | तुमने क्या पहना है वैसे ?

सुमन – नाइटी |

मैं – तुम मेरे सामने खड़ी हो और मैं तुम्हारे पीछे | मेरा लंड तुम्हारी गांड के छेद के पास टकरा रहा है और मैं तुम्हारी गरदन चूमते हुए तुम्हरे दूध को सामने हाँथ कर के मसल रहा हूँ |

सुमन – आहा और |

मैं – अब मैंने तुम्हे अपने सामने कर लिया और तुम्हारे होंठ से अपने होंठ लगा कर तुम्हारे होंठ को चूस रहा हूँ और तुम्हारे दूध को जोर जोर से मसल रहा हूँ |

सुमन – ऊउम्ह्ह और |

मैं – अब मैंने तुम्हारी नाइटी उतार दिया और ब्रा के ऊपर से ही दूध को जोर जोर से मसल रहा हूँ |

सुमन – आहा उन्ह उतार दो ब्रा भी अआहा चूसो मेरा दूध |

मैं – अब मैंने तुम्हारे ब्रा को भी उतार दिया और छाती को चूमते हुए उसके एक दूध को चूस रहा हूँ और दुसरे दूध को जोर जोर से दबा रहा हूँ |

सुमन – आहा मजा आ रहा है हाय |

मैं – अब मैं तुम्हारे दुसरे दूध को चूस रहा हूँ और पहले वाले को जोर जोर से दबा रहा हूँ |

सुमन – आहा कितना अच्छा सेक्स करते हो तुम मजा आ रहा है |

मैं – मैं अब तुम्हारे दोनो दूध को अपने मुंह में भर कर साथ में दबा दबा कर चूस रहा हूँ |

सुमन- अब रहा नहीं जाता मुझसे बस मुझे चोद दो |

मैं – अभी रुको जानेमन चूत बच गई | अब मैंने तुम्हे लेटा दिया हूँ और तुम्हारे दोनों पैर को दूर कर के अपनी जीभ से तुम्हारी चूत चाट रहा हूँ |

सुमन – आहा उआअम्ह आहा मार डालोगे क्या ?

मैं – मैं चूत को अपनी जीभ से रगड़ रगड़ कर चाट रहा हूँ और ऊँगली से चूत भी चोद रहा हूँ |

सुमन – अआहा ऊम्ज आऔंह आहा बस अब और मत तड़पाओ मुझे बस चोद दो |

मैं – अब मैं तुम्हारी चूत में अपने लंड से रगड़ कर सहला रहा हूँ | मैंने लंड अन्दर पेल दिया और धीरे धीरे धक्के लगा रहा हूँ |

सुमन – जोर जोर से चोदो आहा ऊंह मजा आ रहा है और जोर जोर से चोदो |

मैं – अब मैंने अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दिया और जोर जोर से शॉट मारते हुए चोद रहा हूँ और साथ में तुम्हारे दूध भी जोर जोर से मसला रहा हूँ |

सुमन – आहा ऊजंह आमः आहा मैं गई आहा ऊंह माआआ मैं झड़ गई |

मैं – मैंने अब अपना सारा वीर्य तुम्हारी चूत में ही छोड़ दिया |

दोस्तों अभी बात सिर्फ यहीं तक बढ़ी है | जब असली चुदाई होगी तब आगे की कहानी लिखूंगा |

 


error: