कॉलेज का मिस्टर फ्रेशर बना चोदु लौंडा


हाय दोस्तों आज में आप सभी को अपनी लाइफ कि सबसे अच्छी स्टोरी बताने जा रहा हूँ | मुझे पता है कि आप सभी को यह स्टोरी पढ़कर बहुत मजा आयेगा | दोस्तों अब बिना समय लिए में अपनी स्टोरी पर आता हूँ |

दोस्तों मेरा नाम मोहित है और में जबलपुर शहर का रहने वाला हूँ | मेरी ऐज ३० साल है और लम्बाई 5 फुट २ इंच है | मेरी पढाई पूरी होने के बाद गोवा में मेरी जॉब लग गई और मैं गोवा चला गया | दोस्तों मेरे घर पर मम्मी पापा और दो भाई सब कुछ सँभालते हैं | वो सभी जबलपुर में ही रहते है |

दोस्तों मेरी १२ वी क्लास कम्पलीट होने के बाद ग्रज़ुएशन कम्पलीट करने के लिए मैंने कॉलेज में एडमीशन लिया | उसके बाद मैं पहले दिन कॉलेज गया और जब में अपनी क्लास में पंहुचा तो क्लास पर बहुत सारे बॉयज एंड गर्ल्स थे |वो सभी लोग अपनी अपनी डेस्क पर बैठे हुए थे और फिर उसके बाद मैं भी पीछे वाली खाली लास्ट डेस्क पर जाकर बैठ गया | उस समय कॉलेज में मेरा कोई भी फ्रेंड नहीं था | फिर उसके दो या तीन दिन तक मैं अकेला ही क्लास में बैठा रहता था उस समय मेरी किसी से भी उतनी बातचीत नहीं थी | फिर उसके बाद जब दूसरे दिन कॉलेज आया तो पता चला कि हम लोगो की कुछ दिन बाद फ्रेशर पार्टी होने वाली है | जब क्लास में मैं गया तो सर ने सभी लोगो को बताया कि फ्रेशर पार्टी में हम सभी स्टूडेंट्स को डांस सिंगिंग और एक्टिंग में पार्टीसिपेट करना है |

इस प्रतियोगिता में जो भी फर्स्ट आयेगा वो इस कॉलेज का मिस फ्रेशर एंड मिस्टर फ्रेशर होगा | फिर उसके बाद सर ने सभी लोगो के नाम लिखे कि किस किस को इस प्रतियोगिता में भाग लेना है | फिर उसके बाद सभी लोगो ने अपने अपने नाम सिंगिंग और डांसिंग में सर के पास लिखवा दिए | उसके बाद मैंने  भी डांस में सर के पास अपना नाम लिखा दिया था | फिर उसके बाद सभी लोग अपनी अपनी डांस और सिंगिंग की प्रैक्टिस में लग गए | फिर उसके बाद कॉलेज कि छुट्टी हो गई और मैं घर चला गया और फिर दूसरे दिन जब में कॉलेज आया तो क्लास का लेक्चर ख़तम होने के बाद सभी लोग प्रैक्टिस करने लगे और मैं भी एक खाली रूम में जाकर अपने डांस की प्रैक्टिस करने लगा | मेरी क्लास की बहुत सी गर्ल्स ने डांस में भाग लिया था | वो सभी गर्ल्स अपने अपने पाट्नर के साथ डांस करने वाली थी | और उन सभी गर्ल्स में से एक ऐसी थी कि उसे डांस करने के लिए कोई पाट्नर नहीं मिल रहा था | उसे डांस करने के लिए एक लड़के की जरुरत थी और उसका नाम आरती ठाकुर था | वो रीवा की रहने वाली थी और बहुत ही खूबसूरत थी और बहुत सेक्सी भी थी | मैं तरीके से अप्नितैयारी में भिड़ा हुआ था और मुझे कुछ अता पता नहीं था | क्योकि मैंने सोलो डांस में अपना नाम लिखाया था | फिर उसके बाद आरती ने मुझे डांस प्रेक्टिस करते हुए देख लिया मैं एक खाली रूम में प्रैक्टिस कर रहा था जैसा कि आपको पता है | वो मेरे पास आई और मुझसे हाय किया और मेरा नाम पूछने लगी | मैंने भी आरती से हाय किया और अपना नाम बताया |

फिर उसके बाद वो मुझसे बोलने लगी कि तुम डांस बहुत अच्छा करते हो… फिर मैंने आरती को थैंक्स वोला | आरती ने मुझसे बातों बातो में कहा क्या तुम मेरे डांस पार्टनर बनोगे मुझे एक डांस पाट्नर कि जरुरत है ? मैंने थोडा सा सोचा और उसे डांस पार्टनर बनने के लिए हाँ कह दिया | वो यह सुनकर बहुत खुश हो गई थी और मुझे देखकर स्माइल करने लगी और फिर इसके बाद हमारी दोस्ती हो गई | हम दोनों रोज़ साथ में डांस प्रक्टिस करने लगे वो कमाल का नाचती थी पर फिर भी उसे बहुत तैयारी कि ज़रूरत थी जिसमे मैं उसकी मदद करता था | करीब १५ दिन लगे होंगे पर हमारी प्रैक्टिस इतनी अच्छी हो गयी थी कि क्या बताऊँ | दूसरे दिन हम दोनों का डांस था | फिर जब कॉलेज में फ्रेशर पार्टी में हम सभी लोगो ने डांस किया और कॉलेज के सभी सर और मेडम को मेरा और आरती का डांस बहुत अच्छा लगा | हम दोनों का इस डांस प्रतियोगिता में फर्स्ट नंबर लगा और आरती मिस फ्रेशर बन गई और में मिस्टर फ्रेशर | मिस फ्रेशर बनने के बाद आरती बहुत खुश हो गई थी | फिर उसके बाद हम दोनों बहुत अच्छे दोस्त बन गए और हमेशा क्लास पर हम दोनों साथ में बैठते थे | इस चीज़ से एक काम अच्छा हुआ वो ये कि हमारी फ़ोन पे भी बात होने लगी थी | वो रोज मेरे लिए टिफिन बना कर लाया करती थी क्यूंकि मैं टिफिन लेकर नहीं आता था | हम दोनों रोज लंच में साथ में खाना खाते थे और बहुत मस्ती करते थे | मैं आरती को धीरे धीरे बहुत पसंद करने लगा था और फिर मैंने एक दिन आरती से बोल दिया कि …..आरती में तुमको बहुत पसंद करता हूँ और बहुत प्यार भी करता हूँ | आरती यह सुनकर स्माइल करने लगी और कहने लगी कि में भी तुमको बहुत पसंद करती हूँ और प्यार भी |

फिर हम दोनों गर्लफ्रेंड और बॉयफ्रेंड बन गए और हम दोनों बहुत खुश थे क्यूंकि प्यार सच्चा था | हम दोनों रोज कही न कही घूमने जाते रहते थे | इसी महीने में उसका जन्मदिन था और मैंने उसके लिए कुछ सोचा था | मैंने उस दिन उसे सबसे पहले विश किया वो बहुत खुश हो गई थी और फिर आरती ने मुझे शाम को अपने रूम बुलाया बर्थडे सेलीब्रैट करने के लिए | फिर मैं शाम को आरती के रूम गया और जब मैंने आरती को देखा तो आरती बहुत सेक्सी लग रही थी | उसने जीन्स और टीशर्ट और उपर से जैकेट पहनी हुई थी | आरती के लिप्स इतने मस्त लग रहे थे कि लग रहा थे कि लग रहा था कि पकड़ कर किस कर लूँ | मुझे तो बस आरती को चोदने का मन कर रहा था | हमने थोड़ी देर बाद आरती का बर्थडे मनाया केक कटवाया और उसे अपने हाथो से केक खिलाया | आरती बहुत खुश थी फिर आरती ने मुझसे बर्थडे गिफ्ट माँगा ……तो मने आरती से बोला क्या गिफ्ट चाहिए तुम्हे बताओ तो उसने मुझसे गिफ्ट में किस मांगी | मैं यह सुनकर ख़ुशी से मचल रहा था | फिर मैंने आरती को किस किया और आरती भी मुझे किस करने लगी और वो लगातार करे जा रही थी | उस समय मेरा लंड खड़ा हो चुका था और बस चोदने का मन कर रहा था | मुझसे बिलकुल रहा नहीं जा रहा था | फिर मैंने आरती को चोदने का सोच लिया और फिर किस करते करते आरती को दिवार पर टिका कर उसे बोला आरती आज मैं तुम्हे चोदना भी चाहता हूँ | यह बात सुनकर आरती खुश हो गई और चुदने के लिए तैयार हो गई | फिर मैं पूरी रात आरती के रूम में रुका था उसे चोदने के लिए | हम दोनों एक दूसरे को किस करने में मगन थे और मैंने आरती के पूरे कपडे उतार दिए और आरती ने भी मेरे कपडे उतार दिए थे |

फिर मने आरती को पलंग में लिटाया और आरती के पुरे गोरे बदन को चूमने लगा और आरती के मस्त गोरे गोरे दूधों को अपने हाथो से दबाने लगा आरती को बहुत मजा आ रहा था वो मुझसे बार बार दूध दबाने को बोल रही थी | थोड़ी देर बाद मैं आरती के दूध पीने लगा मुझे आरती के दूध पीने में बहुत मजा आ रहा था | फिर आरती मेरा लंड पकड़कर हिलाने लगी और अपनी गांड में घुसाने कि कोशिश करने लगी और चोदने को कहने लगी | ,मैं तो आरती को चूमे जा रहा था और फिर मैंने अपना लंड आरती कि गांड में डाला और चोदने लगा | जेसे ही मैंने अपना लंड आरती कि गांड में डाला वो आह्ह आह्ह ऊह्ह उह्ह्ह करने लगी | मैं तो आरती को चोदे जा रहा था मुझे आरती को चोदने में बहुत मजा आ रहा था | आरती को भी बहुत मजा आ रहा था | पूरी रात आरती मुझसे चुदती रही और चोदते चोदते सुबह हो गई और हम दोनों बहुत थक गए थे | फिर आरती को चोदने के बाद मैं उसके रूम से वापस आ गया | मैं रोज आरती को लेने उसके रूम जाता था कॉलेज जाने के लिए | कॉलेज की छुट्टी होने के बाद उसे उसके रूम छोड़ने भी जाता था और मैं हमेशा आरती को उसके रूम में जाकर चोदते रहता था | जब भी मन करता था उसे चोदने का और वो कभी मुझे मना नहीं करती थी | आरती को जब मैं चोदता था तो वो बहुत खुश होती थी और हमेशा मुझे अपने रूम चुदाने के लिए बुलाती रहती थी |

तो दोस्तों ये थी मेरी खुशकिस्मती भरी चुदाई की कहानी | आशा है आप लोगों को जरुर पसंद आई होगी | अपनी राय कमेंट करके जरुर बताइयेगा |


error: