भौजी के मजे दूर जा कर


bhabhi sex stories

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप सभी ? मैं आशा करता हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे | मेरा नाम ऋतिक है और मैं जबलपुर शहर का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 22 साल है और मैं अभी प्राइवेट जॉब करता हूँ | मैं दिखने में सांवला हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 9 इंच है | इसी के साथ ही मेरा बदन सेक्सी और गठीला है | दोस्तों मैं इस साईट में रोज ही चुदाई की कहानियां पढता हूँ क्यूंकि इस साईट में रोज ही नयी नयी कहानियां मुझे पढने में मिलती हैं | मैंने जितनी भी इसमें कहानियां पढ़ी है लगभग लगभग मुझे अधिकांश कहानियां बेहद पसंद आई | इसलिए मैंने सोचा कि रोज पढ़ता हूँ कहानियां तो आज आप लोगो के लिए मजेदार और मसालेदार कहानी लिखूं | आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी लिखने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैं उम्मीद करता हूँ कि आप लोगो को मेरी ये कहानी पढ़ कर बेहद मजा आयगा | मैं पहली बार इस साईट पर अपनी कहानी प्रकाशित कर रहा हूँ तो अगर इसमें मुझसे कोई गलती हो जाए तो मुझे माफ़ करना | तो अब आप लोगो का समय व्यर्थ ना करते हुए अपनी कहानी शुरू करता हूँ |

ये घटना पिछले साल अप्रैल की है | दरसल मेरी एक टीचर से पहचान है जिसका नाम अंजू डूमरे है और वो सरकारी स्कूल में नौकरी करती है | मैं प्राइवेट जॉब करता हूँ लेकिन मेरा सारा पैसा दारू और लौंडियाबाजी में खर्च हो जाता है | मैं हर समय बस चुदाई के बारे में ही सोचता रहता हूँ और कहते हैं चूत को लंड में और काम को दिमाग में रखना चाहिए पर मैं चूत दिमाग में रखता हूँ और काम को लंड में | पर क्या करूं ? चूत मिल नहीं रही थी | जिस अंजू से मेरी पहचान है वो अपने पति के साथ रहती है सिवनी में | उसके दो बच्चे हैं और दोनों ही अच्छे स्कूल में पढाई करते हैं | उसका पति भी सरकारी नौकरी करता है | उसके घर में उसके सास ससुर और मिया बीवी अपने बच्चो के साथ रहते हैं | उसका पति बहुत ही मादरचोद किस्म का आदमी है क्यूंकि उसकी बीवी इतनी सेक्सी और भरे बदन की महिला है लेकिन फिर भी उसे प्यार नहीं करता और बस अपनी सटक साफ़ करने के लिए चुदाई करता है | बेचारी वो अपनी प्यासी चूत लिए रह जाती है | मुझे जब भी पैसा मिलता है तो मैं फालतू की चीजों में उड़ा देता हूँ और महीने के बीच में ही मेरे पैसे खत्म हो जाते हैं | मैं अंजू को फ़ोन करता हूँ जब मेरे पैसे खत्म हो जाते हैं तो और वो मेरे अकाउंट में पैसा भेज देती है | ये मेरी हर महीने की कहानी है | हम दोनों चुदाई वाली बात कर लेते थे पर कभी चुदाई नहीं कर पाए थे | एक बार उसने मुझे पूछा कि तुम्हे कैसे लड़की पसंद है ? तो मैंने कहा जो मुझसे प्यार करे घर संभाल सके और सभी को खुश रख सके | फिर उसने पूछा ये तो ठीक है दिखने में कैसी होनी चाहिए ? तो मैंने कहा कि लम्बी और और अच्छी होनी चाहिए | फिर उसने पूछा कि तुम्हे कैसे फिगर की लड़की चाहिए ? तो मैंने कहा जैसा आपका फिगर है | उसने फिर पूछा कि कैसा फिगर है मेरा तो मैंने कहा की आपके बड़े दूध गोरा बदन गुलाब की पंखुरी जैसे होंठ | बड़ी और मोटी गांड होनी चाहिए ये बात सुन कर वो काफी अपने आप में कॉंफिडेंट महसूस करने लगी | एक दिन की बात है मुझे रात में नींद नहीं आ रही थी और अंजू भी ऑनलाइन थी | तो फिर से हम दोनों की नार्मल बात होते होते चुदाई की तरफ चली गई | उसने मुझसे पूछा कि तुम सुहागरात में कैसे सेक्स करोगे अपनी बीवी के साथ | तो मैंने बता दिया कि मैं उसके दूध चूसुंगा चूत चाटूंगा और खूब चोदुंगा | ऐसी ही बात करते करते मैं गरम हो गया | तो मुट्ठ मारने लगा | मुट्ठ मारने के बाद मैं सो गया |

loading...

फिर जब हमारी फिर से बात हुई तब उसने बताया कि उसे स्कूल की तरफ से कॉपी चेक करने अजमेर जाना है | मैंने पूछा कि कौन कौन जा रहा है तुम्हारे साथ ? तो तो उसने कहा कि यार मेरे दोनों बच्चो का चलने का मन नहीं है और मेरे पति के साथ मैं जाना नहीं चाहती | तो मैंने संकोच करते हुए पूछा कि क्या मैं चल सकता हूँ तुम्हारे साथ ? तो उसने कहा हाँ ठीक है | फिर उसने हम दोनों की अलग अलग टिकेट करवा ली और मैं भी जाने के एक दिन पहले सिवनी पंहुच गया | हम दोनों एक दूसरे को देख कर बहुत खुश हुए और फिर मैंने उसका सामान और अपना सामान अपनी सीट के नीचे रख दिया | कुछ देर बाद ट्रेन भी चल पड़ी | जब हम वहां पंहुचे तो उसके लिए तो रूम बुक था तो उसने होटल पंहुच कर मेरा नाम भी रूम में ऐड करवा दिया ये कह कर की ये मेरी बहन का बेटा है | फिर हम दोनों रूम में पंहुचे और अपना सामान अलमारी में रख दिया | फिर हम दोनों एक ही बेड में बैठ कर चाय का आर्डर करने लगे फ़ोन कर के | उसके बाद चाय पीते पीते हम दोनों बात करने लगे और हमेशा की तरह हमारी नार्मल बात फिर से सेक्स की तरफ बढ़ गई | जब हम दोनों चुदाई की बात कर रहे थे तो मैं अपना लंड मसल रहा था और उसने शायद मुझे ऐसा करते हुए कई बार नोटिस किया | फिर उसने पूछा कि तुम्हारे लंड में हलचल हो रही है क्या ? तो मैंने अपना लंड खोल कर दिखा दिया | तो उसने कहा तुम्हारा लंड तो बहुत सुन्दर है और मेरे लंड को पकड़ कर उपर नीचे करने लगी | ऐसा करते हुए वो भी गरम हो गई थी तो मैं तुरंत उसके चेहरे पर हाथ फेरने लगा | फिर हम दोनों थोडा और पास आये और फिर एक दूसरे के होंठ को मिला कर किस करने लगे | वो मेरा लंड ऊपर नीचे करते हुए मेरे होंठ को चूस रही थी और मैं उसके दूध को मसलते हुए उसके होंठ को चूस रहा था | फिर उसने मेरी शर्ट उतार दी और फिर जीन्स भी उतार कर चड्डी भी उतार दी | अब मैं पूरा नंगा हो चुका था | उसके बाद वो मेरी छाती पर हाँथ फेरते हुए मेरे लंड को अपनी जीभ से चाटने लगी तो मेरे मुंह से आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह की सिस्कारियां निकलने लगी | वो मेरे लंड को और सूपाड़े को अच्छी तरह जीभ घुमा कर चाट रही थी और और मैं आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए उसके दूध को मसल रहा था | उसके बाद उसने मेरे लंड को अपने मुंह में भर कर चूसने लगी तो मैं आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए उसके बालो को समेटने लगा |

वो जोर जोर से मेरे लंड को ऊपर नीचे करते हुए चूस रही थी और मैं आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए उसके मुंह की चुदाई कर रहा था | उसके बाद मैंने उसकी साड़ी को उतार दिया और उसके ब्लाउज और ब्रा को साथ में निकाल दिया | फिर मैं उसके दूध को अपने मुंह में ले कर एक एक कर के जोर जोर से चूसने लगा तो उसके मुंह से भी आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह कि सिस्कारियां निकलने लगी | उसके बाद मैंने उसके पेटीकोट और पेंटी को भी उतार दिया और उसके पैरों को फैला कर उसकी चूत को चाटने लगा जीभ से तो वो आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए जोर जोर से आन्हे भरने लगी | मैं जोर जोर से उसकी चूत को चाट रहा था और वो आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए मेरे सिर को अपनी चूत पर दबाने लगी थी | फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत में टिका कर चूत सहलाया और फिर अन्दर डाल कर चोदने लगा तो वो भी आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए चुदाई के मजे लेने लगी | फिर मैंने अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दिया और जोर जोर से उसकी चूत चोदने लगा दूध को मसलते हुए तो वो भी अपनी कमर कमर उठा उठा कर चुदाई में साथ देने लगी | कुछ देर चुदाई के बाद मैंने अपना वीर्य उसके मुंह में डाल दिया और वो उसे निगल गई | उसके बाद मैंने उसे कई दिन तक चोदा |

तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी | मैंने उम्मीद करता हूँ कि आप लोगो को मेरी ये कहानी जरुर पसंद आई होगी |