भांजे का मोटा लंड चूत में डलवाया


हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम श्रेया है और में नासिक की रहने वाली हूँ। में 36D साईज की ब्रा पहनती हूँ और मुझे पब्लिक में अपने बूब्स के बीच की लाईन दिखाना बहुत पसंद है। ये स्टोरी मेरी और मेरे ननंद के बेटे अभिजीत की है। में एक अच्छी फेमिली से हूँ और मेरी उम्र 38 साल है। लोग कहते है कि में अपनी उम्र से 10 साल जवान दिखती हूँ। मेरे बूब्स बड़े होने के कारण लोग हमेशा उन्हें घूरते रहते है जो कि मुझे बहुत पसंद है। मेरे पति बिजनेस के सिलसिले में हमेशा आउट ऑफ स्टेट रहते है और इसी वजह से में बहुत बोरिंग महसूस किया करती थी।

ये बात 1 साल पहले की है जब अभिजीत अपनी इंजिनियरिंग की पढाई के लिए हमारे घर शिफ्ट हुआ था। अभिजीत बहुत ही सुंदर, सेक्सी और हैप्पी लड़का था और वो हमेशा से मेरे बहुत करीब था। उसके लुक की वजह से में अपने मन को संभाल नहीं पाई और हमेशा उसके करीब रहने की कोशिश करती थी। जब भी वो आस-पास होता तो में उसे अपनी क्लीवेज ज़रूर दिखाया करती थी। कई बार में अपनी साड़ी का पल्लू गिरा देती और उससे सिड्यूस करने की कोशिश करती। अब उसकी आँखों में भी मुझे वही तड़प दिखाई देती थी। अब वो भी मेरे पास रहता और मुझे टच करने का एक भी चान्स नहीं छोड़ता था। वो कभी मेरे बूब्स तो कभी गांड पर हाथ फेर देता तो में उसे एक स्माइल देती और कुछ नहीं बोलती थी।

एक दिन घर पर मेरे और अभिजीत के अलावा कोई नहीं था और हम दोनों यू ही बातें कर रहे थे और वो मेरे बूब्स को घूरे जा रहा था, उसने शॉर्ट्स पहनी थी और मेरे बूब्स के कारण उसका मोटा लंड खड़ा हो गया था। में हंसी और वहां से अंदर कमरे में चली आई। अब अभिजीत का चेहरा शर्म से लाल हो गया और वो मेरे बेडरूम में मुझसे माफी माँगने आया। अब मैंने यही सही मौका देखकर उसे माफ़ कर दिया और पूछा कि क्या तुम्हें में पसंद हूँ? तो उसने भी हाँ में अपना सिर हिलाया। फिर क्या था? अब मेरे अंदर का सेक्स जाग उठा और मैंने उसे अपनी तरफ खींच एक लंबा किस किया तो शुरू में वो थोड़ा घबराया, लेकिन बाद में अच्छे से मेरा साथ देने लगा। फिर 10-15 मिनट तक स्मूच करने के बाद वो मेरे बूब्स पर अपने हाथ फैरने लगा और में भी अपने हाथों से उसके लंड को जीन्स के ऊपर से सहलाने लगी। अब में अपने आपको रोक नहीं पाई और उसकी जीन्स उतार कर एक छिनाल की तरह उसके लंड को चूसने लगी तो वो भी या आह्ह्ह्ह मामी करके मज़े लेते रहा।

(TBC)…


error: