अच्छे नंबर लाने के लिए चुदवाना पड़ा


hindi sex stories हैल्लो दोस्तों, कैसे हैं आप सभी ? मेरा नाम रेशमा है और मैं फतहपुर की रहने वाली हूँ | मेरी उम्र 32 साल है और मैं शादीशुदा हूँ औरत हूँ | मैं दिखने में गोरी हूँ और मेरा फिगर भरा हुआ है | मेरे 34 के मम्मे 36 कमर और 38 के चूतड़ आकर्षण का केंद्र हैं | कुछ लोग तो आँखों से ही मुझे चोद लेते हैं और कुछ तो ख्यालो में ही चोद पाते हैं | मेरे पति अकमल प्राइवेट कंपनी में मेनेजर हैं और मेरे दोनों बेटे अभी स्कूल की पढाई कर रहे हैं | मैं चुदाई की कहानिया की रोजाना पाठक हूँ और मुझे चुदाई की कहानिया पढना बहुत पसंद है | आज मुझे मौका मिला है कि आप लोगो के मजे के लिए मैं कहानी लिखू | तो आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी लिखने जा रही हूँ ये मेरी पहली कहानी और मेरे जीवन की कुछ सच्ची घटनाओ में से एक है | मैं उम्मीद करती हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी पसंद आयगी | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय नहीं लेते हुए सीधा अपनी कहानी शुरू करती हूँ |

ये घटना तब की है जब मैं स्कूल में 12 कक्षा में पढ़ती थी | जब मैं स्कूल में पढ़ती थी तब मैं पढाई में बहुत कमजोर थी | अब फाइनल एग्जाम में मुझे कैसे भी कर के पास होना था वरना मेरे पापा मुझे बहुत मारते और दूसरा मौका नहीं देते पढाई का | मैं पढाई के साथ साथ जॉब भी करना चाहती हूँ इसलिए मुझे पास होना जरुरी था | मैं कई बार अपनी चूत चुदवा चुकी हूँ और कई बार मैंने स्कूल के टीचर्स भी चुदवाया और कॉलेज में भी प्रोफेसर को पटा कर चुदवा चुकी हूँ | मुझे बहुत डर लग रहा था कि मैं कहीं फेल न हो जाऊं | मेरी क्लास में एक लड़का पढता था जिसका नाम रोशन है वो एक हिन्दू लड़का है और मैं मुस्लिम हूँ | रोशन पढाई में बहुत अच्छा था और उसके अंक हमेशा सबसे ज्यादा आते थे | वो तीनो सेक्शन में अव्वल आता था | मैंने सोचा कि अगर मैं इसे पटा लूं तो ये मेरी पढाई करने में मदद कर देगा और मुझे नक़ल भी देगा क्यूंकि उसका रोल नंबर मेरे रोल नम्बर से एक अंक आगे है | फिर मैंने धीरे धीरे उससे बात करना चालू कर दिया | मैं उसके पास जा कर उससे कहा कि रोशन क्या तुम मेरी एक हेल्प कर सकते हो ? तो उसने कहा हाँ कहो न क्या हेल्प चाहिए ? तो मैंने उससे कहा कि यार फाइनल एग्जाम होने वाले हैं और मेरी उतनी अच्छी तैयारी नहीं है तो क्या तुम मुझे टाइम निकाल कर पढ़ा सकते हो ? तो उसने कहा हाँ जरुर | तो बताओ कब से तुम पढना चाहती हो ? मन तो कर रहा था कि उसके घर जा कर पढू पर शुरुआत थी तो मैंने सोचा कि धीरे धीरे इसको अपने प्यार में लाऊंगी | पहले तो हम स्कूल में ही पढाई करते थे साथ में और मैं उसके सामने कभी अपनी चूत सहलाती तो कभी अपने दूध को खुजलाती | मैं चाहती थी कि वो मेरी तरफ ध्यान दे पर वो ध्यान नहीं देता | कुछ दिन ऐसे ही स्कूल में बीत गए पढ़ते पढ़ते | एक दिन उसी ने मुझसे कहा कि यार अपन स्कूल में रुक कर पढ़ते हैं क्यूँ न तुम टाइम निकाल कर मेरे घर आ कर पढाई किया करो | बस यही तो मैं चाहती थी | मैंने उसे तुरंत हाँ कर दिया |

अब मैं उसके घर में छोटे छोटे कपड़े पहन कर जाने लगी और पढाई के दौरान उसे अपना अंग दिखाने लगी | अब वो भी मुझ पर ध्यान देने लगा | वो कभी कभी मेरी गोरी टांगो को देखता तो कभी मेरे दूध की नाली को देखता और ये सब देख कर मैं उसके लंड में हुई हरकतों पर ध्यान रखती | वो जब मेरे उभारो को देखता तो अपना लंड भी मसलता | मैं समझ गई थी कि ये मुझे चोदने के लिए उत्तेजित होने लगा है पर ये डर के कारण बोल नहीं पा रहा है | मैं सोच रही थी कि थोडा उसे और तरसाऊं और सही टाइम आने पर ही इससे चुद्वाऊ | ऐसे ही हम दोनों के दिन चल रहे थे कि उसने मुझे बोल ही दिया एक दिन कि रेशमा तुम पढाई छोड़ो | मैं तुम्हे नक़ल करवा दूंगा पर तुम्हे मुझसे चुदवाना पड़ेगा | मैं तो चाहती थी कि वो मुझे चोदे | मैं बहुत खुश थी कि मेरी मुराद पूरी हो गई |

मैंने थोडा शर्माते हुए हाँ कर दिया | वो तो जैसे भरा बैठा था | उसने तुरंत ही अपने होंठ मेरे होंठ में रख दिए और मेरे होंठ को चूसने लगा | मैं भी उसका साथ देते हुए उसे किस करने लगी और साथ में उसके लंड को भी जीन्स के ऊपर से सहलाने लगी | किस करने के बाद उसने मेरे टॉप को निकाला और ब्रा के ऊपर से ही मेरे दूध को मसलने लगा तो मेरे मुंह से आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह की सिस्कारिया निकलने लगी | फिर उसने मेरे ब्रा को भी उतार दिया और मेरे मम्मो को चूसने लगा तो मैं भी आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए उत्तेजना के सागर में गोते लगाने लगी |

वो मेरे दोनों दूध को बारी बारी से मसल मसल कर चूसने लगा और मैं भी आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए उसके सिर पर हाँथ फेरने लगी | उसके बाद मैंने शर्ट को खोला और छाती चूमते हुए उसके जीन्स और अंडरवियर को उतार कर पूरा नंगा कर दिया | अब मैं उसके लंड को अपनी जीभ से चाटने लगी तो वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मेरे निप्पलस को ऊँगली से मसलने लगा |

फिर मैंने उसके लंड को अपने मुंह में भर लिया और चूसने लगी तो वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मेरे मुंह की चुदाई चालू कर दी | फिर उसने मेरी स्कर्ट को उतार दिया और पेंटी को भी निकाल दिया | अब मैं भी नंगी थी तो उसने मुझे लेटा दिया और मेरी टांगो को चौड़ा कर के चाटने लगा तो मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मचलने लगी | वो चूत चाट रहा था और मेरे निप्पलस को भी मसल रहा था और मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए उसके सिर को अपनी चूत पे दबाने लगी |

फिर उसने अपना लंड मेरी चूत पे सेट किया और जोरदार धक्के के साथ अन्दर पेल दिया और चोदने लगा | मैं भी आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए चुदाई में उसका साथ देने लगी | फिर उसने अपनी चुदाई की राफ्तार बढ़ा दिया और जोर जोर से धक्के मारते हुए चोदने लगा तो मैं भी आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए अपनी गांड उठा उठा कर चुदवाने लगी | ऐसे ही उसने मुझे आधे घंटे तक चोदा और फिर मेरी चूत के ऊपर ही वीर्य निकाल दिया | फिर फाइनल एक्साम में उसकी वजह से मेरा सेकंड रैंक लगा था और उसका फर्स्ट |


error: