पत्नी ने मुझे हनीमून का मज़ा गोवा में दिया


hindi sex stories

हाय फ्रेंड्स कैसे हो आप सभी लोग ? मुझे उम्मीद है की आप सभी लोग खुश होगे और चुदाई का मज़ा तो ले ही रहे होगे | अपनी पत्नी या गर्लफ्रेंड को भी चुदाई का मज़ा दे रहे होगे | दोस्तों आज मैं एक अपनी कहानी आप लोगो के सामने लेके आया हूँ और ये मेरी पहली कहानी है | मैं अपनी कहानी को शुरू करने से पहले अपने बारे में बता देता हूँ |

मेरा नाम राहुल है | मेरी उम्र 26 साल है और मैं रहने वाला बरेली का हूँ | मैं दिखने में गोरा हूँ और मेरी बॉडी भी ठीक ठाक है वेसे मैं ज्यादा मोटा तो नही हूँ पर तगड़ा हूँ जिससे मेरी बॉडी बहुत ज्यादा है और मेरी ये बॉडी देखकर लड़कियां जल्दी ही फ्लैट हो जाती है और मेरी शादी अभी 8 महीने पहले हो गयी है |  मैं आप लोगो को अपनी पत्नी के बारे में बता देता हूँ | मेरी पत्नी का नाम सोभा है और वो दखने में बहुत गोरी है बिलकुल दूध की तरह | उसका फिगर सेक्सी है उसके बड़े बड़े दूध और उसकी बड़ी चौड़ी गांड है जिसको देख कर मेरा मेरा मन उसकी ठुकाई करने का करता है और मैं अपनी पत्नी को शादी के बाद बहुत बार चोद चूका हूँ पर मुझे चुदाई का असली मज़ा तो गोवा में मिला था जब मैं और मेरी पत्नी गोवा घुमने के लिए गए हुवे थे ये कहानी तब की है | मुझे उम्मीद है की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आयेगी और पढने में भी मज़ा आयेगा | अब मैं बिना टाइम बर्बाद किये सीधे कहानी पर आता हूँ |

loading...

मेरी शादी के बाद अपनी पत्नी को सुहागरात में चोदने के बाद मैंने अपनी पत्नी को बहुत बार चोद चूका हूँ पर मुझे कभी ज्यादा मज़ा नही आया क्यूंकि मेरे घर पर सब रहते थे जिससे वो खुल कर चुद नही पाती थी | तब मैंने उसे घूमने के लिए कहा और उसे ये भी कहा मैं तुम्हे वहां प्यार का असली मज़ा दूंगा | तब मैं और मेरी बीबी ने गोवा जाने का प्लान बनाया और फिर एक दिन गोवा के लिए निकल गये | फिर जब मैं बस में बैठ तो उसके लिए कुछ खाने को लिया और फिर बस चल दी तो हम कुछ ही घंटो में गोवा पहुच गए | फिर मैं और मेरी पत्नी गोवा पहुच गए तब मैंने एक होटल में रूम लिया और सामान रूम में लाने को कहा तब एक आदमी हमारा सामान लेकर आया तो मैंने उसे टिप भी दी और वो चला गया | तब मैंने वेटर से कुछ खाने के लिए ऑडर किया और वो कुछ ही देर में सामन लेकर आ गया | फिर मैं फ्रेस होने के लिए चला गया और कुछ देर में फ्रेस होकर आ गया और उसके बाद मेरी बीबी बाथरूम में फ्रेस होने चली गयी | फिर कुछ देर बाद वो बाथरूम से टॉवेल बांध कर बाहर आई उस टाइम वो टॉवेल में मस्त माल लग रही थी जैसे की कोई 18 -19 साल की लड़की मेरे सामने खड़ी हो | फिर उसने मुझसे कहा कैसी लग रही हूँ तब मैंने कहा जानलेवा लग रही हो |

वो – सच बोलो कैसी आग रही हूँ ?

मैं – सच बोल रहा हूँ मेरी जान  |

उसने अपना टॉवेल खोल दिया और फिर बोली की अब बताओ ?

कसम से दोस्तों जब वो टॉवेल खोल कर मेरे सामने खड़ी थी तो उसका जिस्म संगमरमर की तरह चमक रहा था और मैं ये देख कर बेकाबू हो गया और उसकी तरफ बढ़ा तो उसने अपना टॉवेल बांध लिया |  फिर वो बोली की अभी रूको 5 दिन दिन रुकना है इतनी जल्दी में क्यूँ हो |

फिर वो कपडे पहनने चली गयी और जब वो साड़ी पहन कर मेरे सामने आई तो मेरे तो होश ही उड़ गए थे | वो रेड साड़ी में क्या मस्त लग रही थी | फिर मैंने उसे अपनी गोदी में उठा कर उसे बेड पर लेटा दिया और उसकी होठो को अपनी ऊँगली से पकड कर उसकी होठो को मसलते हुए उसे किस किया | उसके बाद हम खाना खाने के लिए टेबल पर बैठ गए और मैं और मेरी पत्नी खाना खाने लगे | फिर मैं खाने खाने के बाद लेट गया और 2 घंटे आराम करने के बाद |

मैं अपनी पत्नी को अपनी बाँहों में भर लिया और उसके गले में किस करते हुए उसके कान के पास किस करने लगा | मैं उसके कान से किस करते हुए उसकी साड़ी को हटा दिया और उसके पेट को चुमते हुए उसकी नाभि में किस करने लगा | तब वो मछली की तरह तडपती हुई बिस्तर को कास के पकड कर लेती थी | फिर मैंने अपना शार्ट निकाल दिया और उसके पेट को चुमते हुए उसके गालो को चूमने लगा | मैं उसके गालो को चूमने के साथ में ऐसे ही उसके गले को चूम रहा था | वो बिस्तर पर लेती हुई इधर उधर करती हुई मेरा साथ देती हुई लेटी थी और मैं उसके गले में किस करते हुए उसके रेड ब्लाउज को खोल दिया तो मैंने देखा की वो रेड ही कलर की ब्रा अन्दर पहने हुए है | तब मुझे उसके निप्पल ब्रा के ऊपर उभरे हुए दिख रहे थे तो मैं उसके उभरे हुए निप्पल को ब्रा के ऊपर से ही अपनी होठो में दबा कर चूसने लगा | तब उसके मुंह से गर्म सांसो में ऊऊऊऊ.. आआआ… उई उई उई मई…. आ आ आ आ…. हाँ हाँ हाँ…. सी सी सी.. उई उई उई… माँ माँ माँ.. की सिसिकियाँ लेने लगी | मैं उसके निप्पल को चूसते हुए उसको बड़े प्यार के साथ पलट कर उसकी ब्रा के हुक अपने मुंह से खोल दिया और उसकी पीठ पर किस करने लगा तो वो आआआअ… अह अह अह अह… ओह्ह ओह्ह ओह्ह.. उह उह उह.. ऊ आ आ आ…. उई माँ उई माँ उई माँ…. की सिसिकियाँ लेती हुई | अपनी चूत को अपने हाथ से सहलाने लगी और वो अब गर्म हो गयी थी | तब मैं उसकी होठो को अपने मुंह में रख कर चुसने लगा और वो मेरी होठो को जोर जोर से चूसने लगी | मैं उसकी होठो को चूसने के साथ में उसके एक दूध को पकड कर दबा रहा था और उसकी होठो को चूस रहा था | वो मेरी होठो को चूसने के साथ मेरे लंड को पेंट के ऊपर से दबा रही थी और मैं उसकी होठो को ऐसे ही 5 – 7 मिनट तक चूसने के बाद में उसके एक दूध को मुह में रख कर चूसने लगा | उसके बूब्स गोल और चिकने थे जिससे मुझे उसके बूब्स को चूसने में मज़ा आ रहा था और वो आ आ आ आ… उई उई उई… ऊ ऊ ऊ ऊ… हाँ हाँ हाँ…. उई माँ उई माँ… करती हुई बूब्स को चूसा रही थी | मैं उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूस रहा था और दुसरे वाले दूध को हाथ से पकड कर दबा रहा था | वो मेरे सर को पकड कर सहला रही थी और मैं उसके दूध के निप्पल को अपनी होठो से पकड कर खीच खीच कर चूस रहा था साथ में दुसरे वाले दूध के निप्पल को अपनी उँगलियों से घुमा घुमा कर मसल रहा था | मैं उसके बूब्स को इसे ही 5 मिनट तक चूसने के बाद मैंने उसका पेटीकोट और उसकी पेंटी भी निकाल दी | फिर उसकी टांगो को फैला कर उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर उसकी चूत को चाटने लगा तो उसके मुंह से गर्म सांसो में उह उह अह उह अह… उई उह अह उई…. आ आ आ… हाँ हाँ हाँ… उई मई उई मई… की सिसिकियाँ लेती हुई अपने बूब्स के निप्पल को घुमा रही थी | मैं उसकी चूत को चाटने के साथ में उसकी चूत में अपनी ऊँगली भी घुसा दी तो वो उई मई उई मई… उई मई उई माँ….. उह  ह उह अह अह… यह यह… मई मई… उई उई माँ माँ… की आवाजे करने लगी | मैं उसकी चूत में ऐसे ही अपनी ऊँगली को अन्दर बाहर करते हुए उसे अपनी ऊँगली से चोद रहा था | मैं उसकी चूत में अपनी ऊँगली को 5 मिनट तक ऐसे ही करता रहा और वो सिसिकियाँ पर सिसिकियाँ लेती हुई चूसा रही थी |

फिर मैंने अपनी पेंट और अंडरवियर भी निकाल दी | फिर अपने लंड को उसके मुंह में रख कर चुसाने लगा और वो मेरे लंड को मुंह में रख कर जोर जोर से अन्दर बाहर करती हुई चूसने लगी | मैं उसके बालो को पकड कर अपने लंड को चूसा रहा था  | वो मेरे लंड को मुंह में रख कर ऐसे ही 4 -5 मिनट तक चूसती रही और फिर मैं अपने लंड को उसके मुंह से निकाल कर उसकी चूत में घुसा दिया उसकी चूत पूरी तरह से गीली थी जिससे उसकी चूत में पूरा लंड चला गया | वो उई उई माँ … उह उह उह.. आआआआ.. हाँ हाँ.. की सिसिकियाँ लेती हुई चुदने लगी | मैं उसके दोनों बूब्स को पकड कर उसकी चूत में जोर जोर से  अन्दर बाहर करते हुए चोदने लगा तो कमरे में सिर्फ़ मेरे धक्को की और उसकी सिसिकियाँ की आवाज घुजने लगी | मैं उसकी चूत में मस्त धक्को के साथ अन्दर बाहर करते हुए उसको चोदने लगा | फिर मैंने उसे घोड़ी बना कर उसकी चूत में पीछे से लंड को डाल कर जोरदार धक्को के साथ अन्दर बाहर करते हुए चोदने लगा तो वो अपनी चूत को आगे पीछे करती हुई चुदने लगी और फिर उसकी चूत से गर्म पानी की दर निकल गयी तो मैं अपने लंड को उसकी चूत से निकाल लिया | फिर उसकी उसके मुंह में डाल कर अपना सारा पानी उसकी मुंह में ही निकाल दिया और मैंने उसको पुरे 5 दिन ऐसे ही मस्त चुदाई की और वो मस्त होकर रोज चुदी |

ये थी मेरी कहानी मुझे उम्मीद है की आप लोगो को मेरी कहानी पढने में मज़ा आया होगा और पसंद तो जरुर आई होगी |

2,850 total views, 58 views today