बूढी जवानी में जागी अन्तर्वासना


नमस्कार पाठको, मेरा नाम रूपवती है और मैं गाँव में रहती हूँ | मेरी उम्र 51 साल है और मैं शादीशुदा हूँ | मैं दिखने में काली हूँ और मेरा फिगर अब झूल चुका है और पर चुदाई का चस्का अभी तक लगा हुआ है | मेरे दूध लटक गए हैं और चूत भी सिकुड़ गई है | मेरा पति बेवड़ा है और दारु पी के पड़ा रहता है किसी भी नाले में | मेरी तीन बेटी हैं जिनमे से एक का नाम संतो है और दूसरी का नाम बन्नो है और तीसरी का नाम छन्नी है | तीनो एक ही स्कूल में पढ़ती हैं | आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी लिखने जा रही हूँ ये मेरी पहली कहानी है | मैं उम्मीद करती हूँ कि आप सभी को मेरी ये कहानी पसंद आयगी | तो अब मैं अपनी कहानी शुरू करती हूँ |
मैं एक रंडी हूँ और चुदवा चुदवा कर पैसे कमाती हूँ और रोज रात को एक लाल की देसी दारू पीती हूँ | ये मेरी रोज की आदत है और मैं यही धंधा कर के अपनी बेटियां पाल रही हूँ | मेरा पति रिक्शा चलाता है और जो भी कमाता है उस सबकी दारु पी जाता है | मैं शुरू ऐसी नही थी पर मेरी जरूरतों ने मुझे एक रंडी बनने पर मजबूर कर रखा है | मैं चाहती हूँ कि मेरी बेटियां पढ़ लिख कर अच्छे से कमाए | वो जिन्दगी में आगे बढे और खुश रहे | मैं एक दिन शाम को अपने घर के बाहर बैठी थी और जबसे मैं बूढी हुई हूँ तबसे मेरे पास कोई ग्राहक नही आता है | मैं बहुत दुखी हुई थी उस टाइम क्यूंकि मेरा खर्चा नही चल रहा था | सब चीज़ मैं उधार ला कर अपना खर्च और बच्चो की पढाई का खर्च चला रही थी | जब मैं जवान थी तब मेरे पास बहुत ग्राहक आते थे और जो कुछ भी मेरे पास पैसा बचा था सब खत्म हो चुके थे | तभी मेरे घर एक सामने से एक लड़का निकला और वो मेरी तरफ देखते हुए निकल गया | कुछ देर बाद वो फिर से वापस आते हुए सामने से निकला और फिर वो मुझे देखता | ऐसा उसने कई बार किया और फिर एक दम से मेरे पास गाडी ला कर रोका और उतरते हुए गाड़ी से मुझसे पूछा कि रूपवती कहाँ रहती है | तो मैंने कहा मैं ही रूपवती कहो क्या काम है ? तो उसने कहा कि मुझे किसी ने आपका एड्रेस दिया और कहा कि आप चुदवाते हो ? तो मैंने कहा हाँ मैं चुदवाती हूँ पर तुम्हे किसने बताया ? तो उसने कहा कि मुझे मेरे दोस्त ने बताया तो आप कितना पैसे लेती हैं | तो मैंने कहा कि तुम्हे तुम्हारे दोस्त ने कितना बताया है रेट ? तो उसने कहा कि उसने मुझे रेट नही बताया क्यूंकि उसने कभी आपको चोदा नहीं है | तो मैंने उसे 2000 रूपए बोला तो उसने कहा कि ये तो बहुत ज्यादा है आंटी थोडा कम कर दो मैं रोज आऊंगा चोदने | ये बात सुन कर मैं खुश हुई कि अगर मुझे रोज का ग्राहक मिल गया तो मेरे दिक्कत थोड़ी तो कम हो जायगी | तो मैंने उससे कहा कि 500 रूपए लूंगी और इससे कम मैं नही करुँगी | तो उसने कहा ठीक है और झट से पैसे निकाले और मुजीब दे दिए | फिर मैं उसे अन्दर ले के गयी | फिर जब वो अन्दर आया तो मुझे पीछे से पकड़ लिया और अपना लंड मेरी गांड में दबाने लगा | बड़े दिनों बाद मुझे एक लंड का एहसास हो रहा था तो मैं पलटी और उसके होंठ में अपने होंठ रख दिए और उसके होंठ को चूसने लगी | वो भी मेरा साथ देते हुए मेरे होंठ को चूसने लगा और मेरे दूध को दबाने लगा | उसके बाद उसने मेरे साड़ी के पल्लू को नीचे किया और ब्लाउज को भी उतार दिया | अब मैं उसके समाने ब्रा में थी और वो मेरी ब्रा के ऊपर से ही मेरे दूध को मसलने लगा तो मेरे मुंह से आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ की सिस्कारिया निकलने लगी | फिर उसने मेरी ब्रा को भी उतार दिया और मेरे दोनों लटकते हुए दूध को चूसने लगा और मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हए सिस्कारिया लेने लगी | मेरे दूध को जोर जोर से दबाते हुए चूस रहा था और मैं भी आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ कर रही थी | उसके बाद मैंने उसके कपडे उतार दिए और उसे पूरा नंगा कर दिया | उसका लंड 7 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा है | मैं उसके लंड को हाँथ में ले कर हिलाते हुए अपनी जीभ से चाटने लगी तो उसके मुंह से आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ की सिस्कारिया निकलने लगी | मैं उसके लंड को चाट कर अच्छे से गीला कर रही थी और वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ कर रहा था | फिर मैंने उसके लंड को अपने मुंह में डाल ली और आगे पीछे करते हुए चूसने लगी | वो भी आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए जोर जोर से सिस्कारिया लेने लगा | मैं उसके लंड को जोर जोर से आगे पीछे करते हुए चूस रही थी और वो भी आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ कर रहा था | उसके बाद उसने मेरी साड़ी पूरी उतार दिया और पेटीकोट को उतारते हुए बिस्तर पर लेटा दिया | फिर उसने मेरी चड्डी उतारा और मेरी टांगो को फैला कर अपनी जीभ मेरी चूत में रखते हुए रगड़ रगड़ कर चाटने लगा तो मेरे मुंह से आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ की आवाज़ निकलने लगी | वो मेरी चूत को अच्छे से चाट रहा था और ऊँगली डाल कर चोद भी रहा था और मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए अपनी चूत चुसाई के मजे ले रही थी | उसके बाद उसने अपने लंड को मेरी चूत में रगडा और एक ही धक्के में पूरा लंड मेरी चूत के अन्दर डाल दिया | फिर वो धीरे धीरे शॉट लगाते हुए चोदने लगा तो मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करने लगी | फिर उसने अपनी चुदाई की रफ़्तार तेज कर दिया और जोर जोर से धक्के मार कर चोदने लगा | मैं भी आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए अपनी गांड उठा चुदवा रही थी | उसके बाद उसने मुझे घोड़ी बनाया और मेरे पीछे आ कर फिर से लंड रगड़ते हुए चोदने लगा | मैं भी आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्कारिया ले रही थी | वो जोर जोर से धक्के लगाते हुए चोद रहा था और मैं भी आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए अपनी गांड आगे पीछे करते हुए चुदवा रही थी | उसके बाद उसने मेरी चूत से लंड निकाला और मेरी गांड में डाल दिया | अब वो मेरी गांड को जोर जोर से धक्के लगाते हुए चोदने लगा और मैं भी आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए अपनी गांड चुदाई का मजालेने लगी | वो मेरी गांड को भी चोद रहा था और मेरे दोनों दूध को मसल रहा था और मैं बस आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्कारिया ले रही थी | करीब 45 मिनट की चुदाई के बाद उसने मेरी गांड में ही अपना माल निकाल दिया | अब वो मेरा रोज का ग्राहक है और कभी कभी फ्री में भी मुझे चोद लेता है |
तो पाठको ये थी मेरी कहानी | मैं उम्मीद करती हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी पढ़ कर मजा भी आया होगा और पसंद भी आई होगी |

17,622 total views, 11 views today

loading...